मध्यप्रदेश : एक लाख रुपए रिश्वत लेते तहसीलदार गिरफ्तार

Share

रिश्वत की रकम लेकर रेस्ट हाउस में बुलाया था

Panna
कार्रवाई करती लोकायुक्त पुलिस

पन्ना। (Panna) मध्यप्रदेश के पन्ना जिले में रिश्वतखोरी चरम पर है। इस बात की पुष्टि लोकायुक्त की कार्रवाई ने की है। लोकायुक्त पुलिस सागर ने जिले में पदस्थ प्रभारी तहसीलदार को एक लाख रुपए रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है। अजयगढ़ (Ajaygarh) तहसील के प्रभारी तहसीलदार उमेश तिवारी (Umesh Tiwari) ने घर बनाने की एनओसी देने की एवज में एक लाख रुपए की मांग की थी। रिश्वत के लिए राजस्व अधिकारी उमेश तिवारी फरियादी पक्ष को परेशान कर रहे थे।

अंकित मिश्रा नाम के युवक ने सागर लोकायुक्त पुलिस से शिकायत की थी। उसने बताया था कि फील्ड माधवगंज इलाके में उसके चाचा का प्लॉट है। वो उस पर मकान बनाना चाहते है। सारे दस्तावेज होने के बावजूद तहसीलदार उमेश तिवारी काम में अडंगा डाल रहे थे। रिश्वत के तौर पर 1 लाख रुपए मांग रहे थे। परेशान होकर अंकित मिश्रा ने लोकायुक्त पुलिस से शिकायत की थी।

18 जनवरी को शिकायत मिलते ही लोकायुक्त पुलिस एक्शन में आ गई। तस्दीक भी कर ली गई कि तिवारी रिश्वत मांग रहे है। जिसके बाद रंगे हाथों पकड़ने के लिए जाल बिछाया गया। तिवारी ने अंकित मिश्रा को रिश्वत की रकम लेकर रेस्ट हाउस के कमरा नंबर तीन में बुलाया था। जैसे ही अंकित ने एक लाख रुपए तिवारी के हाथ में दिए, लोकायुक्त पुलिस ने छापा मार दिया और तिवारी को रंगेहाथों पकड़ लिया।

लोकायुक्त पुलिस की इस कार्रवाई से राजस्व विभाग में हड़कंप मच गया है। इससे पहले सागर लोकायुक्त पुलिस ने पुनौर के तहसीलदार को भी रिश्वत लेते पकड़ा था। बुधवार को कार्रवाई करने के बाद पुलिस तिवारी को थाने भी ले गई।

यह भी पढ़ें:   धनानी की काली कमाई से कई नेताओं की सांसे ऊपर-नीचे

यह भी पढ़ेंः वन अधिकारी को जिंदा जलाने की कोशिश

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!