Madhya Pradesh Bheem Army का नेता Honey Trap मेें फंसा

Share

कारोबारी के खिलाफ दर्ज हुए बलात्कार के मामले में नया खुलासा, आरोपी गिरफ्तार

madhya Pradesh Honey Trap
सांकेतिक चित्र

ग्वालियर। मध्यप्रदेश (#Madhya Pradesh Crime) पुलिस ने एक और हनीट्रैप गिरोह (#Madhya Pradesh Honey Trap Racket) का भंड़ाफोड़ किया है। यह गिरोह ग्वायिलर (Gwalior Honey Trap) में सक्रिय था। आरोपी भीम आर्मी (Bheem Army Leader) का नेता बताया जा रहा है। वह अपनी महिला मित्र की मदद से यह गिरोह चला रहा था। वह व्यापारियों को बलात्कार के मामले में फंसाकर समझौते के बदले में मोटी रकम वसूलता था। इंदौर (Indore Honey Trap) के बाद ग्वालियर (#Gwalior Honey Trap) में उजागर हुए हनी ट्रैप रैकेट के मामले में अभी जांच जारी है। इस मामले में पुलिस को एक व्यापारी मिल गया है। जिससे गिरोह ने इसी तरह की धमकी देकर करीब सवा चार लाख रुपए ऐंठ लिए थे।

जानकारी के अनुसार ग्वालियर (@Gwalior Honey Trap) पुलिस ने हनीट्रैप गिरोह का खुलासा किया है। पीड़ित किराना व्यापारी बृजमोहन (Brijmohan) है। पुलिस ने पहले उसके खिलाफ एक महिला की शिकायत पर ज्यादती का मुकदमा दर्ज हुआ था। इस मामले में उसको गिरफ्तार भी किया गया था। महिला ने आरोप लगाया था कि पिंटो पार्क के पास से बृजमोहन उसको चार पहिया वाहन में ले गया था। फिर उसने ज्यादती की थी। जबकि हकीकत बताते हुए किराना व्यापारी ने हनी ट्रैप रैकेट का खुलासा किया। इस खुलासे के बाद पुलिस ने महिला और उसके दोस्त को दबोच लिया। किराना व्यापारी ने पुलिस को बताया कि करीब दो महीने पहले एक नंबर से उसके पास कॉल आया था। कॉल करने वाली महिला उससे दोस्ती करना चाहती थी। व्यापारी ने युवती से दोस्ती कर ली थी। दोनों की दोस्ती के दौरान व्हाट्सएप्प पर कॉलिंग और चैटिंग होती थी। युवती अभी भिंड रोड स्थित पिंटो पार्क इलाके में रहती है। उसके बुलाने पर करीब 20 दिन पहले बृजमोहन मिलने गया था।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime : जवाहर लाल स्कूल के कक्षा तीसरी के बच्चे ने अपने दोस्त को बताई पोर्न साइट की लिंक

यहां गोला का मंदिर पर वह युवती से मिला और एक दुकान पर जूस पीने के बाद वह चला गया। उसके बाद 14 दिसंबर को युवती ने फिर उसे मिलने बुलाया। युवती उसे पड़ाव के एक होटल ले गई थी। करीब एक घंटे बाद होटल से निकलकर युवती को उसने गोला का मंदिर पर छोड़ दिया। कुछ देर बार युवती ने उसे कॉल करके बोला कि उसके भाई ने कमरे के अंदर का अश्लील वीडियो बना लिया है। वह शराब पीने का आदी है। युवती की इस बात से व्यापारी डर गया था। युवती ने व्यापारी को बोला डरने की जरूरत नही तुम उसे 10 हजार रुपए दे दो वह किसी को कुछ नही बताएगा। व्यापारी ने युवती के भाई को 10 हजार देने के लिए राजी हो गया था। उसने उसे 10 हजार रुपए दे दिए।

कुछ दिन बाद अमन नागर नाम के युवक का कॉल आया। वह खुद को भीम आर्मी का अध्यक्ष बताता था। उसने और युवती ने 4.20 लाख रुपए मांगना शुरू कर दिया। व्यापारी से डील नही होने पर 17 दिसंबर को युवती ने थाने में व्यापारी के खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज करा दिया। इस रिपोर्ट के बाद व्यापारी ने एसपी से शिकायत की। उसने ऑडियो रिकॉर्डिंग की सीडी पेश की। जांच के बाद शुक्रवार को अमन और युवती के खिलाफ हनीट्रैप का मामला दर्ज किया गया।

Don`t copy text!