Controversial Comment : नेता प्रतिपक्ष ने प्रत्याशी को कहा पाकिस्तान का प्रतिनिधि, चुनाव आयोग पहुंची कांग्रेस

Share

नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कांग्रेस प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया को बताया पाकिस्तान का प्रतिनिधि

गोपाल भार्गव और सीएम कमलनाथ

झाबुआ। मध्यप्रदेश में चुनाव आते ही विवादित बयान (Controversial Comment) आने का सिलसिला भी शुरु हो गया है। झाबुआ (Jhabua) विधानसभा सीट पर होने जा रहे उपचुनाव में सत्ताधारी कांग्रेस (Congress) और विपक्ष में बैठी भाजपा (BJP) के बीच सीधा मुकाबला है। गठबंधन की कमलनाथ (Kamalnath) सरकार के लिए ये सीट जीतना बहुत जरूरी है। वहीं विपक्ष इस सीट को जीतकर अपने विधायकों की संख्या बढ़ाने की तैयारी में है। लिहाजा दोनों ही पार्टी के नेताओं ने धुआंधार प्रचार शुरु कर दिया है। सोमवार को मुख्यमंत्री कमलनाथ और नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव (Gopal Bhargava) प्रचार करने पहुंचे थे। उसी दौरान गोपाल भार्गव ने एक विवादित बयान दे दिया।

YouTube video

गोपाल भार्गव ने कहा कि झाबुआ का उपचुनाव दो पार्टियों का नहीं बल्कि हिंदुस्तान (India) और पाकिस्तान (Pakistan) का चुनाव है। भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी भानू भूरिया (Bhanu Bhuriya) हिंदुस्तान का प्रतिनिधित्व करते है। जबकि कांग्रेस प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया (Kantilal Bhuriya) पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व करते है। अब आपकों हिंदुस्तान को जिताना है।

भाजपा विधायक और नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव के इस विवादित बयान को लेकर कांग्रेस ने चुनाव आयोग (Election Commission) से शिकायत दर्ज कराई है। कांग्रेस ने भार्गव के खिलाफ आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के तहत कार्रवाई करने की मांग की है।

वहीं सोमवार को मुख्यमंत्री कमलनाथ भी झाबुआ में प्रचार करने पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि पिछली भाजपा सरकार ने झाबुआ का विकास नहीं किया। जो काम 15 साल में नहीं हुआ वो कांग्रेस सरकार 3 साल में करेगी। उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया को भारी बहुमतों से जिताने की अपील की। झाबुआ से लौटकर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राज्यपाल लाल जी टंडन से मुलाकात की।

यह भी पढ़ें:   कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ को बाहरी बताने में जुटी भाजपा

कांग्रेस ने झाबुआ उपचुनाव में पूर्व केंद्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया को मैदान में उतारा है। भूरिया का बेटा विक्रांत 2018 में विधानसभा चुनाव हार गया था।

Don`t copy text!