Love Jihad: पूर्व विधायक का आरोप कांग्रेस करा रही धर्म परिवर्तन

Share

मुंबई के जलगांव से भोपाल लाई गई पूर्व विधायक सुरेन्द्र नाथ सिंह की बेटी, कड़ी सुरक्षा के बीच हुई काउसलिंग

Love Jihad
सुरेंद्रनाथ सिंह और उनकी बेटी 

भोपाल। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में भोपाल की मध्य विधानसभा से विधायक रहे भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) के जिला अध्यक्ष सुरेन्द्र नाथ सिंह (Surendra Nath Singh) की बेटी को पुलिस भोपाल ले आई है। उसे कड़ी सुरक्षा के बीच काउसलिंग सेंटर में रखा गया। यहां उसने माता—पिता के खिलाफ बयान दिए हैं। इधर, पूर्व विधायक का आरोप है कि उसका धर्म परिवर्तन (Religion change) कराया जा रहा है। इसको लव जिहाद (Love Jihad) बोलते हुए पार्टी के कार्यकर्ता सड़क पर प्रदर्शन करने की चेतावनी दे रहे हैं।
जानकारी के अनुसार यह मामला पांच दिनों से राजधानी में सुर्खियों में हैं। सुरेन्द्र नाथ सिंह ने भोपाल के कमला नगर थाने में बेटी भारती की गुमशुदगी (Missing) की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। उनका दावा था कि बेटी की मानसिक (Mental Disturb) स्थिति ठीक नहीं है। लेकिन, बेटी का वीडियो सामने आ गया। जिसमें उसने दावा किया कि उसके माता—पिता उसको परेशान करते हैं। इधर, खबर है कि भारती ने दूसरे समाज के व्यक्ति से शादी कर ली है। यह खबर मिलने के बाद पुलिस के भी हाथ—पैर फूल गए। पुलिस ने भारती की जानकारी हासिल की और उसे जलगांव से बरामद कर लिया। उसे कड़ी सुरक्षा के बीच भोपाल लाया गया।

इधर, घटना के विरोध में भाजपा कार्यकर्ता (BJP Worker) शहर के थानों में प्रदर्शन कर रहे हैं। यह कार्यकर्ता लव जेहाद (Love Jihad) का आरोप लगाकर नारेबाजी कर रहे हैं। इधर, सुरेन्द्र नाथ सिंह ने मीडिया से कहा कि मौजूदा सरकार धर्म परिवर्तन करा रही है। इसके खिलाफ जल्द लोगों के आक्रोश का सामना सरकार को करना पड़ेगा। सूत्रों ने बताया कि भारती परिवार के साथ रहने को राजी नहीं हैं। वह जिम ट्रेनर के साथ रहना चाहती है। वह पुणे में जिम खोलने की योजना बना रही हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime News: चौकीदार के साथ ड्रायवरी करने वाले को मिला यह भारी जख्म

उधर, शहर में बिगड़े हालात को देखते हुए पुलिस सतर्क (Bhopal Police Alert) है। वह धार्मिक संस्थाओं की गतिविधियों पर नजर रखे हुए हैं। शहर में कई जगह सख्त चैकिंग से लेकर गश्त बढ़ा दी गई है। हालांकि पुलिस अफसरों का दावा है कि यह दीपावली त्यौहारों को देखते हुए किया जा रहा है। इस प्रकरण से चैकिंग का कोई लेना—देना नहीं हैं। लेकिन, दीपावली पर चैकिंग को लेकर सोशल मीडिया (Social Media Troll) में भोपाल पुलिस जमकर ट्रोल हो रही है।

Don`t copy text!