Shajapur Court News: सैलरी के बदले रिश्वत मांगने वाली महिला अधिकारी दोषी करार

Share

Shajapur Court News: आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की शिकायत पर लोकायुक्त पुलिस ने पकड़ा था रंगे हाथों

Shajapur Court News
शाजापुर जिला अदालत— फाइल फोटो

भोपाल। मध्य प्रदेश के शाजापुर ​जिला अदालत (Shajapur Court News) ने एक महिला अधिकारी के मामले में फैसला सुनाया है। अदालत ने यह फैसला लोकायुक्त पुलिस की तरफ से पेश किए सबूतों और बहस के बाद सुनाया। दोषी करार दी गई महिला अधिकारी पर्यवेक्षक के पद पर तैनात थी। फैसला विशेष न्यायाधीश मनोज कुमार शर्मा की अदालत ने सुनाया है।

चार महीने की तनख्वाह अटकी थी

शाजापुर जिला अदालत में एडीपीओ सचिन रायकवार (ADPO Sachin Raikwar) ने बताया कि दोषी प्रियंका चौहान (Priyanka Chouhan) आगर मालवा के महिला एवं बाल विकास विभाग कार्यालय में तैनात थी। शिकायत ग्राम खेड़ा नरेला की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता कमलाबाई (Kamla Bai) ने की थी। यह शिकायत सितंबर, 2017 में हुई थी। जिसमें उज्जैन लोकायुक्त पुलिस ने यह ट्रैप की कार्रवाई की थी। प्रियंका चौहान 20 हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार हुई थी। दोषी महिला अफसर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता से उसकी चार महीने की सैलरी जारी करने के बदले में यह रिश्वत मांग रही थी। ऐसा नहीं करने पर नौकरी से निकाले जाने की धमकी भी दी थी। ट्रैप करने की यह कार्रवाई तत्कालीन डीएसपी संजय जैन (DSP Sanjay Jain) के नेतृत्व में हुई थी।

यह भी पढ़िए: भोपाल के ‘विजय माल्या’ की कहानी, सिस्टम और सरकार उसके आगे नतमस्तक हैं, नहीं तो इतना सबकुछ होने पर भी वह नहीं बचता

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Shajapur Court News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime: युवती का रास्ता रोक युवक ने की छेड़छड़
Don`t copy text!