Bhopal Cyber Fraud: मैनिट की पूर्व असिस्टेंट प्रोफेसर के साथ जालसाजी

Share

Bhopal Cyber Fraud: सेना का अफसर बनकर सामान बेचने के बहाने बनाया शिकार

Bhopal Cyber Fraud
सांकेतिक ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। सेना के नाम पर हर व्यक्ति संवेदनशील होता है। वह ऐतबार करने के साथ—साथ उसको सम्मान देता है। यह भारत की परंपरा है, जिसको शातिर जालसाज अपना हथियार बनाते हैं। कुछ इसी तरह से मैनिट की पूर्व असिस्टेंट प्रोफेसर के साथ सायबर फ्रॉड (Bhopal Cyber Fraud) किया गया। जिसकी एफआईआर सायबर क्राइम ने जीरो पर दर्ज करके केस डायरी टीटी नगर थाने भेज दी।

ओएलएक्स पर देखा था विज्ञापन

टीटी नगर थाना पुलिस के अनुसार 21 अक्टूबर की रात लगभग नौ बजे 961/21 धारा 419/420 (जालसाजी) का मुकदमा दर्ज किया है। इस संबंध में शिकायत हर्षवर्धन नगर निवासी निधि खोपगडे (Nidhi Khopgade) ने दर्ज कराई है। उन्होंने चार नंबर भी सायबर क्राइम को दिए थे। ठगी की यह वारदात 18 अक्टूबर को हुई थी। उन्होंने ओएलएक्स पर सामान बेचने के लिए विज्ञापन लोड किया था। दरअसल, मैनिट से वे इस्तीफा देकर दूसरे निजी संस्थान में जा रही थी। सामान खरीदने के बहाने आरोपी ने एटीएम कार्ड का नंबर हासिल कर लिया। जिसके बाद आरोपी ने 76,200 रुपए निकल गए। आरोपी ने सामान खरीदने के पहले अपने आपको सेना का अफसर बताकर बातचीत की थी। वह खुलकर अंग्रेजी में भी बातचीत कर रहा था।

यह भी पढ़ें: भोपाल के इस बिल्डर पर सिस्टम का ‘रियायती सैल्यूट’, परेशान हो रहे 100 से अधिक परिवार

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Suicide Case: बीमारी से तंग व्यक्ति ने फांसी लगाई
Don`t copy text!