Bhopal Court News: धोखाधडी के आरोपियों की जमानत निरस्‍त

Share

Bhopal Court News: सस्‍ते दामों में बेचने का दावा करते थे ठगी

Bhopal Court News
भोपाल जिला अदालत — फाइल फोटो

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल स्थित जिला अदालत (Bhopal Court News) में अलग—अलग दो मामलों के आरोपियों की तरफ से जमानत अर्जी लगी थी। जिसमें सुनवाई में दी गई दलीलों के आधार पर आरोपियों को जमानत का लाभ देने से इंकार कर दिया। इसमें से एक मामला फोन करके सस्ते दामों में मोबाइल बेचने से जुड़ा है।

झूठा फंसाने का लगाया आरोप

न्यायाधीश लालता सिंह (Justice Lalta Singh) की अदालत में ऑनलाईन खरीदी की आड़ में धोखाधडी (Kolar Fraud Case) करने वाले आरोपी अनाम हैदर और जफर खान (Jafar Khan) की तरफ जमानत के लिए अर्जी लगाई थी। आरोपियों का दावा था कि पुलिस ने उन्हें झूठा फंसाया है। अभियोजन अधिकारी रचना चिडार ने जमानत का विरोध करते हुए कहा कि आरोपियों को जमानत मिली तो वे फरार हो जाएंगे। इस तर्क के आधार पर आरोपियों अनाम हैदर (Anam Haider) और जफर खान को जेल भेज दिया गया।

यह था मामला

Bhopal Court News
कोलार थाने में गिरफ्तार अनाम हैदर और जफर

इस मामले की शिकायत कुबेर निवारे (Kuber Niware) राजहर्ष कॉलोनी थाना कोलार रोड में दर्ज कराई थी। उसको रेडमी नोट 2 मोबाईल फोन 4500 रूपए में देने और पेमंट फोन रिसीव होने के बाद करना बताया था। इसके बाद एक पैकिंग डिब्‍बा कुबेर निवारे को मिला। पेमेंट पोस्‍टमेन को दे दिया। डिब्‍बा खोलने पर उसमें फटे हुए कागज‍ निकले। जॉच करने पर आरोपी अनाम हैदर और जफर खान का निकला था। दोनों आरोपियों को दिल्ली (Delhi) से गिरफ्तार किया गया था।

छेड़छाड़ के आरोपी की जमानत निरस्त

न्यायाधीश श्‍वेता तिवारी (Justice Shaweta Tiwari) की अदालत ने छेड़छाड़ के आरोपी शैलेंद्र मीणा की जमानत को खारिज कर दिया। अभियोजन अधिकारी मिथिलेश चौबे (Mithilesh Choube) ने बताया मामला बालिकाओं के अपराध से जुड़ा है। इसलिये आरोपी को जमानत का लाभ दिया जाना उचित नहीं होगा। आरोपी शैलेंद्र मीणा को पीड़िता पिछले 2-3 साल से जानती थी। पीड़िता का मोबाइल नंबर लेने के बाद उससे अश्‍लील बातें करने लगा। वह उसका पीछा करके परेशान करता था। इस मामले की एफआईआर नजीराबाद थाना पुलिस ने दर्ज की थी।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Rape Case: बलात्कार की एफआईआर टीआई ने भेजी एसपी को, जानिए क्यों

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!