पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में 14 जवान घायल, 13 जवानों से संपर्क टूटा

Share

सुकमा के जंगल में हुआ आमना-सामना, कई नक्सली नेताओं के मारे जाने का दावा

सांकेतिक फोटो

सुकमा। Anti Naxal Operation छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित इलाकों में एंटी नक्सल ऑपरेशन जारी है। सुकमा (Sukma) जिले में शनिवार दोपहर शुरु हुई मुठभेड़ में कई नक्सली नेताओं के मारे जाने की सूचना है। वहीं इस पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में 14 जवान घायल हुए है। 12 की हालत सामान्य है, वहीं दो जवानों गंभीर है। एक न्यूज एजेंसी के मुताबिक 13 जवानों से संपर्क टूट गया है। पुलिस के अधिकारी, जवानों की एक टुकड़ी से संपर्क नहीं कर पा रहे है। सघन जंगल में हुई मुठभेड़ में नक्सलियों के साथ-साथ जवानों की तलाश भी की जा रही है।

राज्य के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने शनिवार को यहां बताया कि जिले के चिंतागुफा थाना क्षेत्र में कोराजगुड़ा पहाड़ी के करीब जंगल में नक्सलियों ने पुलिस दल पर हमला कर दिया है। इस हमले में  14 जवान घायल हो गए हैं। उन्होंने बताया कि मुठभेड़ में घायल  जवानों को रायपुर के रामकृष्ण केयर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि मुठभेड़ में शामिल 13 जवानों से अभी तक संपर्क नहीं हो सका है। करीब 150 जवानों की टीम अभी जंगल में ही रुकी हुई है।

उन्होंने बताया कि जिले के एलमागुंडा गांव के करीब नक्सली गतिविधि की जानकारी मिलने के बाद चिंतागुफा, बुरकापाल और तेमेलवाड़ा से डीआरजी, एसटीएफ और सीआपीएफ के कोबरा बटालियन के दल को गश्ती पर रवाना किया गया था। उन्होंने बताया कि जब दोपहर बाद 2.30 बजे दल कोराजगुंडा पहाड़ी पर था तब नक्सलियों ने सुरक्षा बलों पर गोलीबारी शुरू कर दी। इसके बाद सुरक्षा बलों ने भी जवाबी कार्रवाई की। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि कुछ देर तक दोनों पक्षों के बीच मुठभेड़ चलने के बाद नक्सली वहां से फरार हो गए थे।

यह भी पढ़ें:   बलात्कार के आरोपी IAS JP Pathak निलंबित, सीएम बघेल के निर्देश पर कार्रवाई

 

Don`t copy text!