Madhya Pradesh Suicide Case: नव विवाहित जोड़ा क्षिप्रा नदी में कूदा, पत्नी की लाश मिली

Share

भाईदूज पर लेने आया था भाई, ससुराल वालों ने भेजने से कर दिया था इनकार

सांकेतिक तस्वीर

उज्जैन। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) की धार्मिक नगरी उज्जैन (Ujjain) में एक नव दंपत्ति को लेकर चौका देने वाला समाचार है। दोनों शहर की प्रसिद्ध नदी क्षिप्रा में कूद (Couple Suicide Case) गए थे। पत्नी का शव गोताखोर की मदद से निकाल लिया है। जबकि पति की तलाश की जा रही है।
घटना की जानकारी लगने पर दोनों का परिवार मौके पर पहुँचा था। लेकिन, यहाँ दोनों पक्ष एक-दूसरे से हाथापाई पर उतर आए थे। पुलिस को शुरुआती जांच में पता चला है कि घटना से पहले दंपति बुआ के घर पहुंचे थे। घटना उज्जैन के औखलेशवर श्मशान घाट पुल के नजदीक की है। दोनों की शादी लगभग पांच महीने पहले हुई थी।दो दिन पहले मृतका ज्योति का भाई भाईदूज पर उसे साथ ले जाने आया था। ससुराल वालों ने उसे ले जाने से मना कर दिया। इस बात से ज्योति और पति राहुल उर्फ गोपाल प्रजापत का मायके ना जाने देने पर विवाद चल रहा था। बुधवार को दोनों महावीर नगर में राहुल उर्फ गोपाल प्रजापत और पत्नी ज्योति मंगलवार को मांगूबाई निवासी फतियाबाद बुआ के यहां भाईदूज मनाकर लौट रहे थे। तभी औखलेश्वर श्मशान घाट के नजदीक दोनों के बीच मायके जानके को लेकर फिर विवाद करने लगे। झगड़ा सुनकर वहां से गुजर रहे राहगीरों और पास के खेत में काम कर रहे लोगों ने समझा—बुझाकर वहां से घर जाने को कहां। दोनों बात मानकर वहां से घर की तरफ़ निकल गए।
कुछ दूर पहुंचने पर पति ने पुल पर बाइक खड़ी की और विवाद फिर से दोनों के बीच शुरू हो गया। विवाद के चलते ज्योति, पति गोपाल को धक्का देकर पुल पर ही अपना पर्स और चप्पल उतारकर नदी में छलांग लगा दी। उसके छलांग लगाते ही पति ने भी उसे बचाने के लिए पीछे से छलांग लगा दी। नदी का बहाव तेज होने के कारण दोनों डूबने लगे। यह देख वहाँ लोगों ने बचाने के लिए आस—पास के लोगों से मदद भी मांगी। सूचना मिलने पर पुलिस भी मौके पर पहुंची। पुलिस ने गोताखोरों की मदद से ढ़ाई घंटे बाद ज्योति का शव बरामद किया। गोपाल प्रजापत उर्फ राहुल का शव अभी तक बरामद नदीं कर पाए है। पुलिस के अनुसार गोपाल का भी शव जल्द बरामद कर लिया जाएगा। गोपाल ऑटो मोबाइल शोरूम पर काम करने वाले राहुल की पांच महीने पहले बांसखेड़ी की ज्योति से शादी हुई थी। ज्योति का ग्रेजुएशन पूरा कराने के लिए इसी साल राहुल ने उसका एडमिशन कॉलेज में कराया था।

यह भी पढ़ें:   MP Home Minister के जिले में पुलिस की ऐसी लापरवाही
Don`t copy text!