MP Political Joke: विकास यात्रा से ​पहले निगम ने अपनाई यह ट्रिक

Share

MP Political Joke: आप में कई चेहरे बेनकाब, गिरफ्तारी से बचने के लिए हुए किनारे, वीडियो रिकॉर्डिंग की अफवाह फैलाई गई

MP Political Joke
सांकेतिक चित्र टीसीआई

भोपाल। मध्यप्रदेश में इस साल विधानसभा चुनाव होना है। इसको लेकर अलग—अलग पार्टियां (MP Political Joke) मोर्चा बनाने में जुटी हुई है। इन कवायद में अब तक कांग्रेस बहुत पीछे चल रही है। जबकि भाजपा की विकास यात्रा एंटी इंकमबेंसी की रोकथाम में एंटी बायोटिक का काम कर रही है। राजधानी भोपाल के जंबूरी मैदान में भारी भरकम डोम लगाए जाते हैं। यहां होने वाले आयोजनों के चलते पिछले दो महीने से डोम नहीं उतरे हैं। आप समझ ही गए होंगे कि एक छोड़ दूसरा दल, संगठन आकर उस डोम को किराए पर ले रहा है। यहां एक विवाह समारोह के बाद करणी सेना ने उसको लिया। फिर यहां जनजातीय समुदाय का एक कार्यक्रम आयोजित हुआ।

रविवार को लगा मानो संग्राम हो रहा हो

MP Political Joke
सांकेतिक चित्र टीसीआई

इसी रविवार को गोविंदपुरा विधानसभा के वोटरों को कुछ चुनाव जैसा अहसास हुआ। यहां भेल दशहरा मैदान में भीम आर्मी (Bhim Army ) की रैली थी। जबकि विधायक कृष्णा गौर अपनी विकास यात्रा निकाल रही थी। यह यात्रा और भीम आर्मी की रैली एक जगह आमने—सामने भी हुई। दूसरी तरफ यहां चुनौती नगर निगम के लिए सबसे ज्यादा बनी हुई थी। दरअसल, निगम के अधिकारी वाहनों से सुअरों को पकड़ रहे थे। इतना ही नहीं जिनकी सुअर पालकों से सेटिंग थी उन्हें मुंह बांधकर सुअरों को अपने कब्जे में रखने की हिदायत पहले ही दे दी गई थी। विकास यात्रा वार्ड 60 में और 59 में घुम रही थी। जिसके लिए वार्ड 59 में भारी भरकम पोस्टर वॉर किए गए। इतना भारी बजट और खर्चा देखकर जनता हैरान थी। हैरानी इस बात की थी कि पूरे एपिसोड में कांग्रेस का दूर—दूर तक कोई रखवाला दिखाई नहीं दे रहा था।

यह भी पढ़ें:   पुलिस की महिला जाबांज ने पुरुषों के दांत खट्टे किये

भाजपा के मैन गेट पर लगाया गया ताला

आम आदमी पार्टी ने रविवार को भाजपा मुख्यालय के  सामने प्रदर्शन का ऐलान किया था। आप पार्टी की तरफ से यह प्रदर्शन अडाणी की हिंडनबर्ग रिपोर्ट को लेकर आयोजित किया गया था। प्रदर्शन के दौरान काफी चुटीली बातें देखने को मिली। यहां जब कार्यकर्ताओं (MP Political Joke) को गिरफ्तार किया जा रहा था कई ऐसा करने से बच रहे थे। वहीं कुछ कार्यकर्ता जो अपने वाहनों से पहुंचे थे या फिर जिन पर आप के स्टीकर लगे थे उनकी वीडियो रिकॉर्डिंग की जा रही थी। ऐसा करने की ठोस वजह तो सामने नहीं आई। बहरहाल प्रदर्शन से पहले भाजपा मुख्यालय के गेट पर ताला जड़कर एक डायल—100 वाहन उसके सामने खड़ा कर दिया गया था।

अपनी ही सरकार की दो विधायकों ने कराई किरकिरी

MP Political Joke
सांकेतिक चित्र टीसीआई

पिछले दिनों छतरपुर जिले के लवकुश नगर थाने में राजनीतिक संग्राम हुआ। यहां स्थानीय भाजपा विधायक राजेश प्रजापति (MLA Rajesh Prajapati) थाने में एफआईआर दर्ज कराने पहुंचे थे। उनका सामना टीआई हेमंत नायक (TI Hemant Nayak) से हो गया। उन्होंने प्रकरण दर्ज नहीं किया और सख्त लहजे में विधायक से बातचीत कर ली। जिसका वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ तो विधायक थाने में ही धरने पर बैठ गए। उनकी मदद करने बडा मलेहरा विधायक भी आ गए। यह पता चलने पर एसपी सचिन शर्मा (SP Sachin Sharma) मोर्चा संभालने पहुंचे। आखिरकार टीआई की थाने से विदाई हुई और मामला शांत हो गया। लेकिन, विकास यात्रा के बीच विधायकों को एक सामान्य कार्य के लिए संघर्ष करते देख कांग्रेस को राजनीति करने का मौका मिल गया। अब जनता को कांग्रेसी नेता यह बताते​ फिर रहे हैं कि रिमोट वाले विधायक के कारण यह परिस्थितियां पूरे प्रदेश में बन रही हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: ओरा मॉल के सामने मारी कार को टक्कर

खबर के लिए ऐसे जुड़े

MP Political Joke
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!