Crime Against Woman : सबूत मिटाने की जल्दबाजी में दफना दिया शव

Share

दहेज के लालची लोगों ने बहू को मारा, आरोपी पुलिस हिरासत में, दफन शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया

Uttar Pradesh Murder Case
सांकेतिक फोटो

लखनऊ। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में दहेज ना मिलने पर महिला की हत्या (UP Crime) कर दी गई। महिला गर्भवती थी इसके बावजूद कातिल (Kill By Husband) ससुराल वालों का दिल नहीं पसीजा। पूरे मामले का खुलासा महिला के पिता की शिकायत के बाद उजागर हुआ। कातिलों ने अपने गुनाह को छुपाने के लिए महिला की मौत की जानकारी न देकर उसको दफना दिया (Uttar Pradesh Buried) था। पिता का दावा है कि बेटी के शरीर पर चोट के निशान भी मिले हैं। पुलिस ने दफन शव को निकालकर उसको पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस ने आरोपियों को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया है।

पुलिस ने महिला की पिता की शिकायत पर हत्या (Lucknow Crime) का मुकदमा दर्ज कर लिया है। पिता सीतापुर जनपद क्षेत्र मेंं रेउसा के अंतर्गत बेदौरा गांव में रहने वाला नबी अहमद (Ahmad) है। उसकी बेटी शीबा बानो (Sheeba Bano) 21 साल की शादी डेढ़ साल पहले खैरीघाट के धनावा राजा गांव मे रहने वाले  असलम के साथ हुई थी। पिता ने हैसियत के अनुसार दहेज दिया था। लेकिन, बेटी के ससुराली उस दहेज (Dowry Case) से खुश नहीं थे। इसका असर बेटी पर पड़ने लगा था। वह उसको दहेज के लिए ताना मारना और मारपीट (Woman Violance) करते थे। बेटी ने यह बात परिजनों को बताई थी। पिता समझाने गया तो उससे बोल दिया की बेटी को वापस ले जाओ। घटना वाले दिन भी अचानक ससुराल वालों का फोन गया की बेटी की
मौत हो गई है। पिता ने कारण पूछा तो किसी के पास कोई जवाब नहीं था।
पिता को बेटी के शरीर पर चोट के निशान दिखाई दिए थे। पिता ने पुलिस को जानकारी देने के लिए बोला तो वह बेटी के शव को दफनाने के लिए जल्दी मचाने लगे थे। पुलिस ने पिता की शिकायत के बाद आरोपी पति असलम, ससुर फकीरे और देवर सद्दाम के खिलाफ दहेज हत्या का केस दर्ज कर हिरासत में लिया है। वही मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में कब्रिस्तान से कब्र खोदकर शव को बाहर निकलाया गया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम की रिपोर्ट के बाद की आगे की कार्रवाई होगी।
यह भी पढ़ें:   घर में अकेली थी महिला, देवर ने किया दुष्कर्म
Don`t copy text!