Bhopal Kidnapping News: ग्राहक बनकर मदुरै के स्क्रेप कारोबारी को बुलाकर बंधक बनाया 

Share

Bhopal Kidnapping News: कार में सवार तीन बदमाशों ने पिस्टल अड़ाकर अलग—अलग चार खातों में जमा कराए 21 लाख रूपए, क्राइम ब्रांच ने दर्ज किया किडनैपिंग का मुकदमा, आरोपियों की तलाश में सायबर और क्राइम ब्रांच की आधा दर्जन टीमें जुटी

Bhopal Kidnapping News
सांकेतिक ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। तमिलनाडू (Tamilnadu) के स्क्रेप कारोबारी को तीन बदमाशों ने पिस्टल की नोंक पर बंधक बनाया। इससे पहले आरोपियों ने ग्राहक बनकर कारोबारी (Bhopal Kidnapping News) से डील के लिए उसे भोपाल बुलाया था। आरोपी स्वीफ्ट कार में सवार थे। उससे चार खातों में करीब 21 लाख रूपए भी ट्रांसफर कराए गए। यह घटना 23 जून को हुई थी। जिसकी एफआईआर 29 जून को दर्ज की गई। मामले की जांच और एफआईआर भोपाल शहर क्राइम ब्रांच (Crime Branch) कर रही है। तफ्तीश के लिए सायबर और क्राइम ब्रांच की कई टीमें जुटी हुई है। पुलिस आरोपियों के कार नंबर की जानकारी जुटा रही है। जिसके लिए दर्जनों सीसीटीवी कैमरे खंगालने का काम चल रहा है।

फैक्ट्री मालिक बनकर कबाड़ बेचने का कर रहा था सौदा

क्राइम ब्रांच थाना पुलिस के अनुसार आरोपी कौशिक नाम का एक व्यक्ति है। वह अपने आपको फैक्ट्री मालिक बनकर पीड़ित से संपर्क किया। पीड़ित बी.सतीश पिता टी.बिरैया उम्र 39 साल है। वह तमिलनाडू के मदुरै जिले में स्थित चायना चौकी कुलम के नजदीक कमला सेकंड स्ट्रीट में रहता है। बी.सतीश (B. Satish) ने बताया कि उसकी वीरा इंडस्ट्रीज (Veera Industries) के नाम से कंपनी है। कंपनी में प्लासिट उत्पादन बनाने और बेचने का काम होता है। वह स्क्रेप का भी माल खरीदकर रिसायकल करके उसे बेचता है। उसके पास 21 जून को व्हाटृस एप पर मैसेज आया था। उसने अपना सरनेम कौशिक बताया था। उसका दावा था कि उसके पास 25 टन प्लास्टिक स्क्रेप है। उसे बेचने के लिए सौदा उसने 70 रूपए प्रतिकिलो और 18 परसेंट जीएसटी अ​तिरिक्त के साथ सौदा करने की बात बोली। वह मदुरै (Madurai) में माल भेजने को भी राजी था। बी.सतीश ने बोला कि वह माल देखने के बाद कीमत तय करेगा। यह बातचीत व्हाट्स एप पर हुई। उसी दिन रात को फिर उसका कॉल आया। इसके बाद 23 जून को पीड़ित ने फ्लाईट से भोपाल आने की बात बोली।

कमीशन मिलने के बाद छोड़ने की दी थी धमकी

पीड़ित बी.सतीश चैन्नई, मुंबई होते हुए भोपाल के राजा भोज विमानतल पर उतरा। यहां उसने नंबर पर कॉल लगाया तो उसे संत आशाराम तिराहा (Saint Asharam Tiraha) पर आने के लिए बोला। फोन करने वाले ने बताया कि उसको कार में सवार उसके बंदे फैक्ट्री लेकर जाएंगे। बताए अनुसार (Bhopal Kidnapping news) उसे स्वीफ्ट कार मिली। वह उसका नंबर नहीं देख सका और भीतर जाकर बैठ गया। कार शुरू होते ही आरोपियों ने उसको पिस्टल की नोंक पर 40 हजार रूपए छीन लिए। उसे चलती कार में पीटा जाने लगा और रकम के बारे में पूछते रहे। आरोपी के पास पिस्टल के अलावा बड़े—बड़े छुरे भी रखे हुए थे। जिसको देखकर कारोबारी सहम गया। आरोपियों में शामिल एक व्यक्ति किसी से फोन पर बातचीत करके उसके अनुसार काम कर रहा था। इसके बाद उसको एक कमरे में ले जाकर बंधक बनाया गया। यहां एक बुजुर्ग आदमी भी उसे मिला था। इसके बाद आरोपियों ने उसको अलग—अलग सात खातों की जानकारी देकर इंटरनेट बैंकिंग के जरिए 20 लाख रूपए का ट्रांजेक्शन करा लिया। इसके बाद आरोपी उसको कार में फिर लेकर दूसरी जगह ले गए। उनका कहना था कि उनके कमीशन आने के बाद वह उसको छोड़ देंगे।

आरोपियों में कई लोग शामिल जिनकी तलाश की जा रही

Bhopal Kidnapping News
क्राइम ब्रांच थाना— जिला भोपाल— फाइल फोटो।

आरोपियों ने पीड़ित के परिवार की फोटो दिखाकर उनको भी मारने की धमकी दी। उसे इंदौर (Indore) रोड पर छोड़कर आरोपी भाग गए। वहां से वह बस के रास्ते इंदौर पहुंचा और फ्लाईट पकड़कर अपने घर पहुंचा। परिजनों को पूरी कहानी बताने के बाद वह एफआईआर दर्ज कराने भोपाल आया। क्राइम ब्रांच ने 29 जून की शाम लगभग सात बजे 70/23 धारा 364—ए/365/368/506/120—बी (अपहरण, पैसों के लिए अगवा करना, धमकाना और साजिश के तहत प्रकरण) दर्ज किया है। आरोपी फिलहाल कार में सवार तीन व्यक्ति बनाए गए हैं। लेकिन, इस प्रकरण में आधा दर्जन से अधिक लोगों की भूमिका सामने आ रही है। मामले की जांच एसआई सुनील भदौरिया (SI Sunil Bhadauriya) कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि प्रकरण की जांच एडीसीपी क्राइम ब्रांच शैलेन्द्र सिंह चौहान (ADCP Shailendra Singh Chauhan) के निर्देश पर की जा रही है। अभी कोई बात कहना जल्दबाजी होगी।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Molestation Case: घर में घुसकर मारपीट, महिला से छेड़छाड़

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal Kidnapping News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!