Bhopal Cyber Fraud: जालसाजों ने सीए को बनाया अपना शिकार

Share

Bhopal Cyber Fraud: लाइक—पोस्ट पर 60 रूपए देने से शुरू हुआ सिलसिला आठ लाख रूपए के फर्जीवाड़े पर जाकर थमा, जानिए कैसे

Bhopal Cyber Fraud
सांकेतिक ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। राजधानी में एक दिन पहले ही दो मासूम बच्चों को जहर देकर मारने के बाद आत्महत्या करने वाले पति—पत्नी का मामला ठंडा भी नहीं हुआ है। परिवार का मुखिया कोलंबिया की एक छद्म मायाजाल में फंस गया था। जिससे वह बाहर नहीं आ सका और चार महीने में पूरा परिवार तबाह हो गया। कुछ ऐसे ही एक और मामले में भोपाल शहर के क्राइम ब्रांच (Bhopal Cyber Fraud) में एफआईआर हुई है। इस मामले की जांच फिलहाल सायबर क्राइम कर रही है। आरोपी जालसाजों ने निवेश करने के नाम पर 60 रूपए की छोटी रकम से जाल फेंका था। जिसमें फंसकर चार्टड अकाउंटेंट कई किस्त में आठ लाख रूपए गंवा चुका। इस फर्जीवाड़े में दर्जनों लोग शिकार बने हैं। जिनकी सूची अभी बनाई जा रही है।

ऐसे दिया गया था निवेश करने का लालच

सायबर क्राइम के अनुसार पीड़िता कोहेफिजा स्थित सपना अपार्टमेंट (Sapna Apartment) में रहने वाला हारून खान (Harun Khan) पिता अब्दुल रशीद खां उम्र 58 साल हैं। वे पेशे से सीए का काम करते हैं। उन्होंने पुलिस को बताया कि उनके पास 16 जून को व्हाट्स एप पर मैसेज आया था। जिसमें टेलीग्राम से जुड़कर पैसा कमाने का लालच दिया गया था। इसके लिए बस उन्हें लाइक—पोस्ट करने पर 60 रूपए मिलने थे। जब वे इसके लिए तैयार हुए थे पांच—छह लोगों का एक ग्रुप बनाया गया। उन्हें कुछ दिनों तक 60 रूपए मिलते रहे। इसी बीच ग्रुप में लालच दिया गया कि एक हजार रूपए देने पर 1200 रूपए मिलेंगे। ऐसा उस ग्रुप के लोगों ने कर दिया। उन्हें बकायदा रकम भी मिली। कुछ समय बाद तीन हजार के निवेश पर 3500 रूपए का लालच दिया। ऐसे करते—करते रकम एक लाख रूपए के निवेश का लालच दिया गया। हारून खान ने पुलिस को बताया कि जब उन्होंने एक लाख रूपए दिए तो उन्हें रकम वापस नहीं मिली। इसका विरोध जताया गया तो बताया कि तकनीकी फॉल्ट के कारण ऐसा हुआ है। उनसे वापस एक ​लाख रूपए जमा करने के लिए बोला गया। यह बोला गया कि पहले और अभी की दोनों रकम मिलाकर वापस आ जाएगी।

बाहर आने की बजाय फिर फंसते चले गए

हारून खान ने फिर एक लाख रूपए जमा कर दिए। वह रकम भी नहीं आई तो उनसे डेढ़ लाख रूपए फिर लिए गए। उन्हें पहले पैसे मिल रहे थे। इसलिए थोड़ा यकीन था लेकिन, वह अब धीरे—धीरे टूट रहा था। पीड़ित कुछ समझते तब तक किस्तों में वह आठ लाख आठ हजार रूपए जालसाजों (Bhopal Cyber Fraud) को दे चुके थे। इस मामले में अब 13 जुलाई की शाम लगभग साढ़े चार बजे क्राइम ब्रांच (Crime Branch) थाने में 81/23 धारा 420 (जालसाजी का प्रकरण) दर्ज कर लिया गया है। इस मामले में आरोपी  फिलहाल अज्ञात है। पुलिस का कहना है कि जालसाजों के कुछ नंबर मिले हैं। जिनकी जानकारी जुटाई जा रही है। वहीं जिन खातों से रकम यहां—वहां भेजी गई उसका पता लगाया जा रहा है। पुलिस का कहना है कि हारून खान एकमात्र पीड़ित हैं। उसके जैसे कई अन्य हैं जिनके बारे में पता लगाया जा रहा है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal Cyber Fraud
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: तलाक नहीं देने की बात पर दो परिवार भिड़े
Don`t copy text!