Nagar Nigam Logo Issue : मेयर आलोक शर्मा के खिलाफ देशद्रोह की हुई शिकायत

Share

Nagar Nigam Logo Issueराष्ट्रीय चिन्ह को हटाने के मामले में घिरते नजर आ रहे मेयर के खिलाफ कांग्रेस ने खोला मोर्चा

भोपाल। चुनाव से पहले लोगो (Nagar Nigam Logo Issue) का मुद्दा भाजपा के लिए सिरदर्द बन सकता है। प्रदेश की राजधानी में इस साल के अंत तक निगम चुनाव को लेकर घमासान शुरू होने वाला है। इस घमासान से पहले कांग्रेस हर मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी को घेरना चाहती है। भोपाल के मेयर आलोक शर्मा समेत उनके एमआईसी सदस्यों के खिलाफ भोपाल आईजी योगेश देशमुख से शिकायत की गई है। इस शिकायत में सभी के खिलाफ देशद्रोह का मामला चलाने की मांग की गई है।

यह रही शिकायत की वजह
यह शिकायत आशीष ओझा और दीपक दीवान ने लिखित में की है। ओझा और दीवान ने बातचीत करते हुए बताया कि जून, 2019 में भोपाल नगर निगम का लोगो बदला गया। इस बदलते वक्त राष्ट्रीय चिन्ह अशोक स्तंभ को ही हटा दिया गया। यह कृत्य देशद्रोह की श्रेणी में आता है। जिसकी शिकायत करते हुए मेयर आलोक शर्मा समेत एमआईसी मेंबर के (Nagar Nigam Logo Issue) खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई है। इधर, जानकार बताते हैं कि इस मामले में मेयर पर संकट आ सकता है। इसके अलावा उनके दस समर्थक जो एमआईसी मेंबर हैं वह घिर सकते हैं। यह मामला निगम चुनाव के वक्त ज्यादा तूल पकड़ सकता है। इस संबंध में मेयर आलोक शर्मा से प्रतिक्रिया के लिए प्रयास किया गया। लेकिन, उन्होंने निगम का सरकारी मोबाइल फोन नहीं उठाया।

पहले भी हुआ विरोध

इस मामले में नेता प्रतिप​क्ष मोहम्मद सगीर ने भी विरोध किया था। निगम के लोगो से मछली को हटाकर राजा भोज की प्रतिमा को लगाया गया था। पुराने लोगों (Nagar Nigam Logo Issue) में मछली के नीचे अशोक चिन्ह था जो नए लोगो से गायब है। पुराने लोगों में आखिरी बार पूर्व महापौर एवं मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने बदलाव किया था। उन्होंने ही भारत के अशोक चिन्ह के अलावा सांची का स्तूप लोगो में जोड़ा था।

यह भी पढ़ें:   मुंबई में ब्रिज गिरने के मामले में इंजीनियर गिरफ्तार

पूरी कहानी को समझना हैं तो यहां क्लिक करें

बताया जाता है कि इस निगम चुनाव में कांग्रेस योजनाबद्ध तरीके से मैदान में उतरने जा रही है। इसके लिए वह बकायदा भाजपा से जुड़े पार्षदों और नेताओं के खिलाफ मामले उजागर करके रखना चाहती है। बताया जाता है कि शिकायत करने वाले आशीष ओझा और दीपक दीवान कांग्रेस पार्टी से जुड़े नेता हैं। जिन्होंने भाजपा पार्षदों दिनेश यादव, केवल मिश्रा, भूपेन्द्र माली, महेश मकवाना, राजश्री बरकारिया, कृष्ण मोहन सोनी समेत अन्य के खिलाफ शिकायत की है। यह सभी भाजपा नेता के साथ—साथ एमआईसी मेंबर भी है।

Don`t copy text!