विकासकार्यों की मांग करना पड़ा भारी, नक्सलियों ने ग्रामीणों को पीटा, 25 घायल

Share

महिलाओं और बच्चों को भी नहीं छोड़ा, 8 की हालत नाजुक

Naxal Attack
फाइल फोटो

रायपुर। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित जिलों में नक्सलियों का आतंक जारी है। विकास विरोधी नक्सलियों ने ग्रामीणों को निशाना बनाना शुरु कर दिया है। ताजा मामला दंतेवाड़ा (Dantewada) जिले से सामने आया है। जहां विकासकार्यों की मांग करना ग्रामीणों को भारी पड़ गया। ग्रामीणों ने प्रशासनिक अधिकारियों से सड़क व अन्य विकासकार्य कराने की मांग की थी। नक्सलियों को जब ये बात पता चली तो वो गांव में पहुंच गए और ग्रामीणों की पिटाई (Naxal Attack) की। बेरहमी से की गई पिटाई में 25 ग्रामीण घायल हो गए। इनमें से 8 की हालत नाजुक बताई जा रही है।

रविवार को सामने आया मामला

दंतेवाड़ा जिला पुलिस ने रविवार को घटना की जानकारी दी। एसपी अभिषेक पल्लव ने न्यूज एजेंसी को बताया कि घटना कटे कल्याण पुलिस थाना इलाके की है। शुक्रवार रात परचेली गांव में नक्सलियों ने कायराना वारदात को अंजाम दिया। रविवार को जानकारी लगने के बाद पुलिस टीम को घटनास्थल पर भेजा गया।

अधिकारियों से की थी मांग

एसपी ने बताया कि हाल ही में उन्होंने कलेक्टर के साथ गांव का दौरा किया था। परचेली गांव के लोगों ने सड़क निर्माण और आंगनबाड़ी की स्थापना की मांग की थी। अधिकारियों ने ग्रामीणों को जल्द ही विकासकार्य कराने का आश्वासन दिया था। लेकिन जब ये बात नक्सलियों को पता चली कि ग्रामीणों विकास चाहते है तो वो गांव में पहुंच गए। 10-15 की संख्या में हथियारबंद नक्सलियों ने ग्रामीणों को बंधक बना लिया। जिसके बाद ग्रामीणों की जमकर पिटाई की गई। लाठी डंडों ने महिलाओं और बच्चों को भी पीटा गया।

यह भी पढ़ें:   भालुओं के हमले से युवक की मौत, खेत जा रहे थे दो युवक

बौखला गए है नक्सली

रविवार को पुलिस की टीम एंबुलेंस के साथ गांव में पहुंची। घायल ग्रामीणों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया। 8 ग्रामीण गंभीर रूप से घायल हुए है, जिनमें एक महिला भी शामिल है। उन्हें जिला अस्पताल रैफर किया गया है। वहीं 17 घायलों को प्राथमिक इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई है। एसपी अभिषेक पल्लव ने बताया कि अक्सर नक्सली अपना गुस्सा ग्रामीणों पर उतारते रहते है। साथियों की गिरफ्तारी और सरेंडर से नक्सली बौखला गए है। मामले में एफआईआर दर्ज कर नक्सलियों की तलाश शुरु कर दी गई है।

यह भी पढ़ेंः 5 साल की बच्ची से 3 लड़कों ने किया सामूहिक बलात्कार

Don`t copy text!