पत्रकार की गोली मारकर हत्या, प्रियंका गांधी ने ये कहा…

Share

पुलिस का दावा, प्रॉपर्टी विवाद में हुई हत्या, 4 आरोपी गिरफ्तार

Journalist Ratan Singh
रतन सिंह, मृतक पत्रकार

बलिया। (Ballia) उत्तर प्रदेश में एक पत्रकार की गोली मारकर हत्या कर दी गई। सोमवार रात बदमाशों ने वारदात को अंजाम दिया। पत्रकार की पहचान 45 वर्षीय रतन सिंह (Journalist Ratan Singh) के तौर पर हुई है। एएसपी संजय यादव (SSP Sanjay Yadav) ने बताया कि रतन सिंह एक हिंदी न्यूज चैनल के लिए काम करते थे। जिले के पैपाना कस्बे में रतन सिंह को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया गया। अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) अवनीश अवस्थी ने बताया कि चार आरोपी दिनेश सिंह, अरविंद सिंह, सुनील सिंह और मोती सिंग को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने बताया कि पत्रकार रतन सिंह और उनके पड़ोसी दिनेश सिंह के बीच प्रॉपर्टी को लेकर विवाद चल रहा था।

किराएदार है आरोपी

लंबे समय से संपत्ति को चल रहे विवाद में सोमवार रात एक बार फिर झगड़ा शुरु हो गया। दोनों तरफ से कई लोग आपस में भिड़ गए। इसी दौरान दिनेश ने रतन को गोली मार दी। जानकारी के मुताबिक आरोपी दिनेश, पत्रकार रतन सिंह का किराएदार था। एडिशनल डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने ये जानकारी दी। एएसपी ने बताया कि 2019 में भी दोनों पक्षों के बीच प्रॉपर्टी को लेकर विवाद हुआ था। जिसमें दोनों पक्षों के खिलाफ केस दर्ज किया गया था। लेकिन कुछ दिनों बाद रतन सिंह का नाम केस से हटा दिया गया था।

अधिकारी प्रशांत कुमार ने बताया कि रतन सिंह की हत्या के पीछे की वजह प्रॉपर्टी विवाद है। न कि पत्रकारिता की वजह से उनकी हत्या की गई है। आरोपियों के खिलाफ एऩएसए और गुंडा एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है। वहीं परिजन ने पुलिस की कहानी को खारिज किया है।

यह भी पढ़ें:   UP Crime : खेत में काम कर रही लड़की के साथ तीन युवकों ने किया Gang Rape

प्रियंका गांधी का ट्वीट

19 जून – श्री शुभममणि त्रिपाठी की हत्या 20 जुलाई – श्री विक्रम जोशी की हत्या 24 अगस्त- श्री रतन सिंह की हत्या, बलिया पिछले 3 महीनों में 3 पत्रकारों की हत्या। 11 पत्रकारों पर खबर लिखने के चलते FIR। यूपी सरकार का पत्रकारों की सुरक्षा और स्वतन्त्रता को लेकर ये रवैया निंदनीय है।

यह भी पढ़ेंः सड़क हादसे में तीन सगे भाइयों की मौत

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!