Bhopal News: विहिप कार्यकर्ताओं को पीटा 

Share

Bhopal News: एफआईआर दर्ज कराने पहुंचे नेताओं को थाने के भीतर ले जाकर जबरिया बंधक बनाकर थाना प्रभारी पर पीटने का आरोप, थाने के भीतर बर्बरता करने वालों के खिलाफ कार्रवाई के लिए भजन गाने पर अफसरों ने कार्रवाई करने की बजाय एनसीआर काटा

Bhopal News
पत्रकार वार्ता में पुलिस ​बर्बरता के खिलाफ मीडिया से बातचीत करते हुए विहिप नेता।

भोपाल। विश्व हिंदू परिषद के आधा दर्जन से अधिक कार्यकर्ताओं को थाने के भीतर पीटा गया। यह आरोप भोपाल (Bhopal News) शहर के रातीबड़ थाना प्रभारी पर लगे हैं। जिसको लेकर रातीबड़ थाने में सैंकड़ों कार्यकर्ता पहुंच गए और पुलिस बर्बरता के खिलाफ भजन करने लगे। मामले में तूल पकड़ता देख पुलिस ने मूल विषय पर तो एफआईआर कर ली। लेकिन, थाने में हुई बर्बरता के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया गया। इस बात को लेकर विहिप के मध्य प्रांत के नेता नाराज हैं। उन्होंने पत्रकार वार्ता आयोजित करके पुलिस प्रशासन को चेतावनी दी हैं।

इस कारण हुआ था पूरा विवाद

एडीसीपी महावीर सिंह मुजाल्दे (ADCP Mahaveer Singh Mujalde) को विश्व हिंदू परिषद के नेताओं ने ज्ञापन भी सौंपा है। सूरज नगर निवासी जितेंद्र बंजारा (Jitendra Banjara) ने बताया कि वह अपने दो अन्य साथियों के साथ जा रहा था। तभी अमन खान ने बेतरतीब तरीके से वाहन चलाया। जिसको लेकर अमन खान (Aman Khan) और विनोद मेहरा (Vinod Mehra) के साथ विवाद हुआ। वह कुछ दूर ढ़ाबे तक पहुंचा तो पीछे से कार में भरकर अमन खान लड़के ले आया। उन्होंने तीनों को पीटा तो उसके बाद जितेंद्र बंजारा विहिप (Vishwa Hindu Parishad) नेताओं के साथ रिपोर्ट दर्ज कराने थाने पहुंचे। उसके साथ नीरज प्रजापति, रोहित श्रीवास्तव, राहुल बंजारा, कार्तिक वैष्णव, अजय वर्मा, मनोज राठौर, दिनेश बंजारा और अंकित कनोजिया थे। सभी थाने में ड्यूटी में तैनात एएसआई गंगाराम राठौर (ASI Gangaram Rathore) से बातचीत कर रहे थे। तभी पीछे से रातीबड़ थाना प्रभारी हेमंत श्रीवास्तव (TI Hemant Shrivastav) आए। आरोप है कि उन्होंने सभी को लॉकअप में डाला और बेरहमी से पीटा। विहिप नेताओं ने पत्रकार वार्ता के दौरान मारपीट में आई चोट के निशान भी दिखाए। विहिप मध्य भारत के प्रांत मंत्री राजेश जैन (Rajesh Jain) ने कहा कि हमारे कार्यकर्ता लापरवाह है तो पुलिस सबूत पेश करें। थाने में जगह—जगह सीसीटीवी लगे हैं उसके रिकॉर्ड खंगालकर दोषी पुलिस अफसरों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। ऐसा नहीं किया तो विहिप इस संबंध में पूरे प्रदेश में आंदोलन चलाएगा। उनके साथ पत्रकार वार्ता में विहिप सहमंत्री गोपाल सोनी (Gopal Soni) और प्रचार प्रसार प्रमुख जितेंद्र चौहान (Jitendra Chauhan) भी मौजूद थे।

इन कर्मचारियों पर पीड़ितों ने लगाए आरोप

पुलिस कर्मियों की बर्बरता को लेकर प्रखंड महामंत्री ​जितेंद्र बंजारा का कहना है कि मैं पीछे पलटकर कैसे थाना प्रभारी की कॉलर पकड़ सकता हूं। बल्कि उन्होंने पीछे से आकर हमारी गर्दन दबोची। इस पूरे मामले (Bhopal News) में रातीबड़ थाना प्रभारी हेमंत श्रीवास्तव, एसआई राघवेंद्र सिकरवार, उदय सिसोदिया, अनिल वर्मा, रविन्द्र दांगी, महेश दुबे सहित अन्य पुलिस कर्मियों पर आरोप लगे हैं। इन आरोपों पर पुलिस ने अफसरों और कर्मचारियों के खिलाफ एनसीआर काटी है। जबकि मूल विवाद पर पुलिस ने मारपीट का काउंटर केस दर्ज किया है। जिसमें जितेंद्र बंजारा की शिकायत पर 78/24 धारा 294/323/506/147 (गाली—गलौज, मारपीट, जान से मारने की धमकी देना और बलवे का मुकदमा) दर्ज किया है। इस मामले में आरोपी शुभम दुबे, अमन, विनोद और साथी। वहीं विनोद मेहरा (Vinod Mehra) की शिकायत पर 79/24 धारा 294/323/452/427/147/506 (गाली—गलौज, मारपीट, घुसकर मारपीट, तोड़फोड़, बलवा और जान से मारने की धमकी देने का प्रकरण) दर्ज किया है। इस मामले में आरोपी जितेंद्र बंजारा, कार्तिक, पिंटू और साथी हैं। इस मामले में नीरज प्रजापति (Neeraj Prajapati) का कहना है कि विवाद के बाद जिन्होंने हंगामा किया वे बंजारा समाज के लोग थे। उनका विहिप से कोई लेना—देना नहीं था। पुलिस जानबूझकर प्रकरण को विवाद में बनाकर थाने के भीतर की गई बर्बरता को कमजोर करने की साजिश कर रही है। इन आरोपों पर डीसीपी जोन—1 रामजी श्रीवास्तव (DCP Ramji Shrivastav) ने बताया कि मामले की शिकायत के बाद पुलिस अधिकारी और कर्मियों पर एनसीआर दर्ज हुई है। मामला जांच में है जो भी लापरवाही पाई जाएगी उसमें कार्रवाई की जाएगी।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   MP MCU Scam News: कुठियाला की क्लोजर रिपोर्ट को दी जा सकती है चुनौती, जानिए कैसे
Don`t copy text!