Bhopal Brutal Murder: हत्या के बाद पत्नी ने दर्ज कराई थाने में गुमशुदगी

Share

Bhopal Brutal Murder: एक्सट्रा मैरिटल अफेयर की सनसनीखेज कहानी को पुलिस ने सुलझाया, पत्नी समेत तीन आरोपियों को हिरासत में लिया गया

Bhopal Brutal Murder
सांकेतिक ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। आशिकी में एक महिला अपने पति की कातिल बन गई। यह सनसनीखेज वारदात भोपाल (Bhopal Brutal Murder) देहात क्षेत्र में स्थित सुखी सेवनिया इलाके में हुई। साजिश में शामिल महिला के इशारे पर इस जघन्य हत्याकांड को अंजाम दिया गया है। पुलिस ने इस मामले में महिला समेत तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का दावा है कि हत्या एक्सट्रा मैरिटल अफेयर को लेकर की गई है।

पुलिस के पास ऐसे पहुंचा था मामला

सुखी सेवनिया थाने में 21 फरवरी को अनिता कुशवाह (Anita Kushwaha) ने 35 वर्षीय पति बबलू कुशवाह (Bablu Kushwaha) की गुमशुदगी 08/23 दर्ज कराई थी। वह एकता नगर में रहती है। पुलिस इसी मामले की जांच कर रही थी। जिसमें पुलिस को पता चला कि असलम (Aslam) के साथ उसका विवाद होता था। विवाद की वजह पता लगाई गई तो सामने आया कि असलम के बबलू कुशवाह की पत्नी के साथ अवैध संबंध थे। यहां से गहराया शक यकीन में तब तब्दील हुआ जब असलम को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। उसने बताया कि बबलू कुशवाह की उसके घर में ही चाकू घोंपकर और रॉड से हमला करके हत्या कर दी थी। उसके बाद दोस्त नईम खान की बाइक से लाश को ठिकाने लगाया गया। यह लाश पातरा नाले में उसने फेंकी है। यह पता चलने के बाद पुलिस सक्रिय हुई और आला अधिकारियों को घटनाक्रम से अवगत कराया गया।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Molestation Case: सिरफिरा लड़की को देखकर निकालता था अजीब आवाज

ऐसे जुड़ती चली गई कड़ियां

पुलिस ने असलम को हिरासत में ले लिया है। वह फर्नीचर पॉलिश का काम करता है। इसके अलावा नईम खान (Naim Khan) कबाड़खाने में काम करता है। उसने ही लाश को ठिकाने लगाने के लिए बोरी मुहैया कराई थी। इस पूरे हत्याकांड को बबलू कुशवाह की पत्नी के इशारों पर अंजाम दिया गया था। इस आधार पर सुखी सेवनिया थाना पुलिस ने 45/23 धारा 459/302/201/120—बी/34 (घर में हत्या के इरादे से घुसकर, हत्या करना, सबूत मिटाना, साजिश और एक से अधिक आरोपी) का प्रकरण दर्ज किया गया है। घटनाक्रम को लेकर कई सवाल भी खड़े हो रहे हैं। लेकिन, मामले को संगीन बताकर एसआई रिंकू जाटव (SI Rinku Jatav) सिर्फ इतनी ही बातें साक्षा कर चुके है। इधर, इसी समाचार को लेकर कुछ समाचार पत्रों में भी मीडिया रिर्पोटिंग आई है।

YouTube video

हमने लाल और हरी गोली का अंतर न समझाया होता तो अस्पताल में वह आती ही नहीं…समाचार के बाद अस्पतालों में दवा का इंतजाम तो हुआ। वीडियो को पूरा एक बार जरूर सुनना। शायद आपको हमारी गंभीर पत्रकारिता के जज्बे का अहसास हो सके।

यह भी पढ़िएः तीन सौ रूपए का बिल जमा नहीं करने पर बिजली काटने के लिए आने वाला अमला, लेकिन करोड़ों रूपए के लोन पर खामोश सिस्टम और सरकार का कड़वा सच

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal Brutal Murder
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   कांग्रेस के पूर्व विधायक की फिर बड़ी मुश्किल
Don`t copy text!