मुख्यमंत्री के गृह क्षेत्र में ‘माफियाराज’, आरक्षक पर चढ़ाया ट्रैक्टर

Share

रेत माफिया की दबंगई उजागर, जारी है अवैध उत्खनन का खेल

Budhni Sand Mafiya
अस्पताल में भर्ती पुलिस आरक्षक धर्मेंद्र यादव

बुधनी। सीहोर (Shehore) जिले की बुधनी (Budhni) विधानसभा में रेत माफिया (Sand Mafiya) की दबंगई का मामला सामने आया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) के गृह क्षेत्र में रेत माफिया (Budhani Sand Mafiya) इतना बेखौफ है कि पुलिस को देखकर भी गाड़ी नहीं रोकता। रास्ता रोकने वाले पुलिसवाले पर ही गाड़ी चढ़ा दी जाती है। गुरुवार-शुक्रवार की दरमियानी रात भी कुछ ऐसा ही हुआ। रेत माफिया ने आरक्षक धर्मेंद्र यादव (Constable Dharmendra Yadav) के ऊपर ट्रैक्टर ट्रॉली चढ़ा दी। इरादा तो आरक्षक को कुचलकर भाग जाने का था। लेकिन धर्मेंद्र यादव की किस्मत अच्छी थी कि जान बच गई। जानबूझकर किए गए एक्सीडेंट में धर्मेंद्र बुरी तरह घायल हो गए है। उन्हें होशंगाबाद के मीना हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है।

अवैध उत्खनन रोकने गया था अमला

सीहोर जिले में अवैध उत्खनन की खबरें सामने आती ही रहती है। एनजीटी की रोक के बावजूद जिले में अवैध उत्खनन जारी है। रेत माफिया पर राजनीतिक सरंक्षक के आरोप लगते रहते है। ऐसे में भी चौकी प्रभारी ने हिम्मत जुटाई थी। रेहटी थाना चौकी के प्रभारी राजीव मकोड़ अपने स्टाफ के साथ चैकिंग करने सड़क पर उतरे थे।

लेकिन चौकी प्रभारी राजीव मकोड़ और आरक्षकों का सड़क पर खड़े हो जाना माफिया को नागवार गुजरा। अवैध उत्खनन रोकने उतरी पर ही ट्रैक्टर चढ़ा दिया गया। टीआई अरविंद कुमरे ने बताया कि चौकी प्रभारी को रेत के अवैध उत्खनन की सूचना मिली थी। लिहाजा गुरुवार रात वो चैकिंग करने गए थे।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Theft Case: कपड़ा व्यापारी की दुकान पर धावा

ब्रेक लगाने की बजाए एक्सीलेटर दबा दिया

चौकी की पुलिस बेरिकेट्स लगाकर चैकिंग कर रही थी। उसी दौरान रेत से भरी तेज रफ्तार ट्रैक्टर-ट्रॉली आती हुई दिखी। बेरिकेट्स पर पुलिस ने उसे रोकने की कोशिश की। आरक्षक धर्मेंद्र यादव ने ट्रैक्टर चालक को रुकने के लिए इशारा किया। लेकिन सड़क पर बेखौफा भाग रहे रेत माफिया का इरादा तो कुछ और ही था। उसने ब्रेक पर पैर रखने की बजाए एक्सीलेटर दबा दिया। जान बचाने  के लिए धर्मेंद्र यादव कुछ कदम पीछे हटे। लेकिन फिर भी उनका बायां पैर ट्रैक्टर की चपेट में आ गया। जिसके बाद माफिया मौके से भाग निकला। टीआई का कहना है कि चालक को हिरासत में ले लिया गया है।

कांग्रेस ने उठाए सवाल

यह भी पढ़ेंः अतिक्रमण हटाने गया था सरकारी अमला, महिला ने खुद को लगाई आग, देखें वीडियो

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!