Nepali Jansampark Samiti: नेपाली दूतावास का मुद्दा संसद भवन में उठेगा

Share

Nepali Jansampark Samiti: नेपाली जनसंपर्क समिति के अधिवेशन में भाजपा विधायक सबनानी बोले 22 जनवरी को दीपावली जैसा माहौल बनाएं, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी बोले हमारी पार्टी सर्वधर्म समभाव वाली, मुद्दों को लेकर जितना संभव हो उतना लडूंगा

Nepali Jansampark Samiti
ओल्ड कैंपियन स्कूल के सभागार में नेपाली जनसंपर्क समिति के कार्यक्रम को प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद पहली बार संबोधित करते हुए जीतू पटवारी।

भोपाल। भारत में रहने वाले नेपाली नागरिकों के सामाजिक संगठन नेपाली जनसंपर्क समिति (Nepali Jansampark Samiti) का 11वां महाधिवेशन प्रदेश की राजधानी भोपाल में संपन्न हुआ। यह आयोजन ओल्ड कैंपियन स्कूल के सभागार में रखा गया था। इसमें नेजस के मध्य भारत की नई कार्यकारिणी का एक दिन के मंथन के बाद पूरा हुआ। जिसके उद्घोषणा कार्यक्रम में भारतीय जनता पार्टी के दक्षिण—पश्चिम भोपाल के विधायक भगवान दास सबनानी और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी भी पहुंचे थे। दोनों ही नेताओं ने अपनी पार्टी की विचारधारा के अनुरुप कार्यक्रम में विचार व्यक्त किए। वहीं नेजस के आयोजन के लिए नेपाली कांग्रेस के सांसद प्रदीप पौडेल और नेपाल में पाल्पा जिला के अध्यक्ष हिमाल श्रेष्ठ भी मौजूद थे। भोपाल शहर में चली दो दिन की मैराथन बैठक के दौरान प्रवासी नेपाली नागरिकों के प्रति दिल्ली में स्थित दूतावास के लचर रवैये को लेकर काफी नाराजगी व्यक्त की गई। हालांकि इसे राजनीतिक जानकार विदेशी भूमि में दोनों देशों के रिश्ते बिगड़ाने वाले बयान को बता रहे हैं। दरअसल, नेपाली कांग्रेस अभी विपक्ष में मौजूद हैं।

देश के लिए कुछ करने वाली पुरानी पार्टी है

नेपाली जनसंपर्क समिति के अधिवेशन में पहुंचे विधायक भगवान दास सबनानी (BJP MLA Bhagwandas Sabnani) ने कहा कि प्रदेश के विकास में नेपाली नागरिकों की महत्वपूर्ण भूमिका है। भारत—नेपाल का रिश्ता राजनीतिक के साथ—साथ धार्मिक भी है। माता जानकी का जन्म स्थान नेपाल में हैं। इस महीने 22 जनवरी को रामलला मंदिर में विराज रहे हैं। इस कारण भगवान राम आपके दामाद भी है। इसलिए जितना हो सके उतनी अधिक खुशी व्यक्त करने का यह समय है। देश में दीपावली जैसा माहौल दिखाई दे वह उत्साह आप भी दिखाए। नेपाली हिंदू परंपरा को निभाने वाला भी देश है। इसी तरह भाजपा जिला महामंत्री राघवेंद्र शर्मा (Raghvendra Sharma) भी कार्यक्रम में पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि नेपाल में 36 तरह की भाषा बोली जाती है। उन्होंने रामायण का प्रसंग सुनाते हुए कहा कि जब तक नेपाल के बिना सिया—राम नहीं बोला जा सकता। इसी कार्यक्रम में पहुंचे प्रदेश अध्यक्ष कांग्रेस जीतू पटवारी (Jeet Patwari) ने कहा कि हमारी पार्टी सर्वधर्म समभाव वाली है। नेपाल की सबसे पुरानी पार्टी भी नेपाली कांग्रेस (Nepali Congerss) ही है। यह पार्टी देश के लिए कुछ करने वाली पार्टी है। भारत—नेपाल दोनों भाई—भाई है। पटवारी ने कहा कि मेरी भी इच्छा है कि एक बार मैं भगवान पशुपतिनाथ के दर्शन करूं। पटवारी ने कहा कि नेपाली नागरिकों की एमपी की इकोनॉमी में काफी योगदान है। इसके अलावा यह यकीन है कि यदि नेपाली परिवार को हम अपना परिवार सौंप दे उसे वह अपनों से ज्यादा ध्यान देते हैं। उन्होंने कहा कि यदि आपको जब भी मेरी आवश्यकता महसूस हो मुझे याद कीजिए। आपके मुद्दे को मेरी क्षमता में जितना होगा उतना सहयोग करूंगा।

भारत—नेपाल सीमा के बीच होने वाली घटनाएं चिंताजनक

Nepali Jansampark Samiti
ओल्ड कैंपियन स्कूल के सभागार में नेपाली जनसंपर्क समिति के कार्यक्रम को भाजपा विधायक बनने के बाद पहली बार संबोधित करते हुए भगवान दास सबनानी।

कार्यक्रम में संबोधित करने के लिए नेपाल देश के पाल्पा जिले से नेपाली कांग्रेस के सभापति हिमाल दत्त श्रेष्ठ (Himal Dutt Shrestha) भी आए थे। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि भोपाल में कई विचारधारा के संगठन है। लेकिन, बातचीत करने से यह लगा कि सभी यह चाहते हैं कि नेपाल विकास करें। यह भावना मुझे बहुत अच्छी लगी। उन्होंने कहा कि अभी नेपाल में जो विकास हो रहा है उसमें सिर्फ राजनीति है। श्रेष्ठ ने कहा कि विदेश में रहने वाले नागरिक वहां रहने वाले युवाओं के लिए प्रेरणा बन सकते हैं। यहां के जरिए नेपाल में उत्पादन में निवेश करके रोजगार वहां भी पैदा किए जा सकते हैं। नेपाल धार्मिक आस्थाओं का बड़ा केंद्र है। भारत से रिश्ते मधुर करके वहां धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा मिल सकता है। उन्होंने नेपाल में स्थित कई धार्मिक स्थलों का नाम लेकर सुरंग बनाकर उसे भारत देश के साथ जोड़ने पर जोर दिया। उन्होंने भारत में रहने वाले नागरिकों को लेकर कहा कि मुझे देखने में मिल रहा है कि समान कार्य के मुकाबले समान वेतन नहीं हैं। इसके अलावा भारत—नेपाल सीमा के बीच ठगी और लूटपाट जैसी घटनाएं हो रही है। इसके अलावा नेपाली सांसद प्रदीप पौडेल (Nepal MP Pradeep Paudel) ने अपने संबोधन में कहा कि मध्यप्रदेश में रहने वाले नेपाली अन्य प्रांतों के मुकाबले बेहद संवेदनशील है। इस कारण नेपाली कांग्रेस यहां के सक्रिय कार्यकर्ताओं के प्रति अलग ही नजरिया रखती है। उन्हें नेपाल में होने वाले निर्वाचन में अलग स्थान दिया जाता है। उन्होंने कहा कि नेपाल में वहां की जनता ही सरकार की आलोचना करती है। लेकिन, विदेश में रहने के बावजूद आपकी चिंता बताती है कि आप कितना नेपाल देश के प्रति प्यार करते हैं।

यह भी पढ़ें:   MP Political News: मुझे कमलनाथ जैसा कद नहीं चाहिए: विष्णु दत्त शर्मा

यूनियन बनाने और काउंसिल दफ्तर खोलने की आवश्यकता

सांसद प्रदीप पौडेल ने कहा कि दुनिया में हर देश किसी न किसी समस्या से जूझ रहा है। नेपाल अभी आर्थिक विकास से अभी जूझ रहा है। उन्होंने कहा कि भारत में रहने वाले नागरिक जनप्रतिनिधियों के रास्ते दोनों देशों के बीच सेतु बनाने का काम कर सकते हैं। पौडेल ने कहा कि अभी भारत में कितने नेपाली (Nepali Jansampark Samiti) रह रहे हैं उसका वास्तविक आंकड़ा नहीं है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि नेपाली दूतावास (Nepal Embassy) अभी सक्रिय नहीं है। इस कारण नागरिकों की कई समस्याओं में वह हस्तक्षेप भी नहीं करता है। सांसद ने नेपाली जनसंपर्क समिति के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को भरोसा दिलाया कि वे संसद भवन में वे इस मुद्दे को गंभीरता के साथ उठाएंगे। उन्होंने भारत में यूनियन बनाने और नेपाली दूतावास के अधीन काउंसिल का दूसरा दफ्तर खोलने की आवश्यकता बताई। भारत की नीतियों को लेकर उन्होंने कहा कि हम झगड़कर समाधान नहीं निकाल सकते। उसके लिए आवश्यक है कि इसके लिए कूटनीतिक तरीके का इस्तेमाल किया जाए। भारत—नेपाल में धर्म, भाषा और संस्कृति अलग नहीं हैं। यह जरुर है कि हम भारत में भाषायी अल्पसंख्यक हो सकते हैं। पौडेल ने नेपाली युवाओं के पलायन को अभी चिंता का विषय बताया। उन्होंने कहा कि प्रतिदिन तीन हजार नेपाली युवा यूरोप जा रहा है। नेपाल में प्रणाली अनुसार कार्य करने की आवश्यकता है। लेकिन, अभी नागरिक प्रशासन की कमी दिखाई दे रही है। उन्होंने कहा कि नेपाल कार्बन उत्सर्जन करने वाला देश नहीं हैं। यह हमारी खासियत है। इसलिए हाइड्रो प्रोजेक्ट बनाना जरुरी है। हमारी इतनी मांग है कि इसके लिए मर्यादाओं को कोई नुकसान न पहुंचे। पौडेल ने कहा कि चीन का 13 फीसदी और भारत का 33 प्रतिशत निवेश है। इसमें हम चाहते हैं कि भारत 63 फीसदी तक आंकड़ा पहुंचाए।

आंतरिक झंझावतों से जूझ रहा नेपाली जनसंपर्क समिति

Nepali Jansampark Samiti
कार्यक्रम में जीतू पटवारी को ढ़ाका पहनाकर स्वागत करते हुए नेपाली सांसद प्रदीप पौडेल।

नेपाली सांसद प्रदीप पौडेल नेपाली जनसंपर्क समिति के आयोजन के अलावा मूल प्रवाह अखिल भारत नेपाली एकता समाज  के वनभोज कार्यक्रम में भी पहुंचे थे। इसके अलावा भोपाल में सक्रिय अन्य संगठन श्री पशुपतिनाथ नेपाली समाज, प्रवासी नेपाली संघ, अखिल भारत नेपाली एकता मंच, गोरखा कल्याण समिति और प्रवासी नेपाली एकता मंच के पदाधिकारियों से भी मुलाकात की। उल्लेखनीय है कि मध्य भारत नेपाली जनसंपर्क समिति में आंतरिक झंझावत आया हुआ है। इस संगठन से टूटकर कुछ साल पहले नया संगठन बना है। इस संगठन का नाम नेपाली जन कल्याण संघ (Nepali Jan Kalyan Sangh) है। इसमें सदस्यों को जोड़ने के लिए युद्धस्तर पर अभियान चल रहा है। जिस कारण नेजस के कई सदस्य टूटकर नए संघ में चले गए हैं। नेपाली जनसंपर्क समिति के महाधिवेशन के दौरान 41 सदस्यों ने संगठन की सदस्यता भी ग्रहण की। जिसमें केंद्रीय सदस्य की महत्वपूर्ण भूमिका रही। यह पीड़ा नेपाली कांग्रेस के सभापति हिमाल श्रेष्ठ के बयानों में भी दिखाई दी। उन्होंने अपने संबोधन में किसी दल का नाम न लेकर कहा कि यू—ट्यूब से बना राजनीतिक दल नेपाल की समस्या का समाधान नहीं कर सकता। नेपाली कांग्रेस गरीबी और असमानता हटाने के लिए बनी हैं। घटती संख्या का दर्द नेपाली सांसद प्रदीप पौडेल के बयान में भी नजर आया। उन्होंने भी किसी का नाम न लेकर कहा कि जितने ज्यादा संगठन होते हैं उससे आम नागरिकों के समाधान के विषय न होकर मुश्किलें भी पैदा कर सकते हैं। दोनों ही नेताओं का इशारा नए संगठन की तरफ था। दरअसल, यह संगठन नेपाल में बनी राष्ट्रीय स्वतंत्र पार्टी का समर्थन कर रहा है। इस पार्टी को लेकर भोपाल में पिछले दिनों कई कार्यक्रम आयोजित किए जा चुके हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: मकानों के बाहर खड़ी बूलेट समेत पांच वाहन ले गए चोर, तरस खाकर एक बाइक लावारिस छोड़ दी

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Nepali Jansampark Samiti
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!