Bhopal Murder News: पैसों के लालच में जालसाजी फिर…

Share

Bhopal Murder News: आरोपियों को लगा कि पुलिस थाने में अफसर कॉमिक्स पढ़ते हैं इसलिए यह कहानी रचकर पुलिस को बता दी, लेकिन कुछ ही घंटों में आरोपी हो गए बेनकाब

Bhopal Murder News
सांकेतिक ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। यदि आप थाने जाकर पुलिस से झूठ बोलने की कोशिश कर रहे हैं तो सावधान हो जाइए। क्योंकि आपको ऐसा करना आसान तो लगेगा लेकिन वह ज्यादा समय टिक नहीं पाएगा। ऐसा ही सोचकर दो कातिलों ने कॉमिक्स में पढ़ी जाने वाली झूठी कहानी गढ़ दी थी। हालांकि पुलिस ने उसको चंद घंटों में ही पर्दाफाश कर दिया। यह मामला भोपाल (Bhopal Murder News) देहात क्षेत्र में स्थित सुखी सेवनिया इलाके का है। जिसमें पुलिस ने हत्या का प्रकरण दर्ज किया है। इससे पहले आरोपियों ने सड़क दुर्घटना में मौत की कहानी पुलिस को सुनाई थी।

भांजा इसलिए बन गया कातिल

आरोपियों ने पुलिस को गुमराह करने शव को कुछ ऐसे फेंका था कि उनकी कहानी पर यकीन कर लिया जाए। इसके लिए बाइक को बायपास रोड पर फेंका गया था। अस्पताल से मौत की सूचना मिली तो सुखी सेवनिया पुलिस मर्ग 54/23 दर्ज कर मामले की जांच में मैदान में उतरी। मौत की सूचना 1 नवंबर को मिली थी। जांच प्रभारी रचना मिश्रा (TI Rachna Mishra) कर रहीं थी। शव बनवारी कुशवाहा (Banwari Kushwah) पुत्र कमल सिंह का था। वह सुखी सेवनिया स्थित डोब बरखेड़ी गांव में रहता था। पुलिस को प्राथमिक जांच में पता चला कि बनवारी कुशवाहा ने कुछ दिन पहले ही जमीन बेची है। जिसके बाद उसे 45 लाख रुपए मिले थे। यह रकम उसके खाते में जमा थी। लेकिन, वह अशिक्षित था इसलिए लेन—देन के लिए अक्सर भांजे 28 वर्षीय रिंकू कुशवाह (Rinku Kushwah) को साथ में रखता था। बनवारी कुशवाहा 31 अक्टूबर को भी उसके ही साथ था।

इन धाराओं में दर्ज किया गया है मुकदमा

पुलिस को अब यह साफ हो चुका था कि रिंकू कुशवाहा हत्या से पहले उसके साथ था। क्योंकि पीएम रिपोर्ट में भी मौत दुर्घटना से नहीं होने की बात सामने आ गई थी। इसलिए उसने रिंकू कुशवाहा का इतिहास खंगाला तो पता चला कि उसने मामा को बिना बताए चार—पांच लाख रुपए निकाल लिए थे। जिसकी जानकारी 31 अक्टूबर को उसके मामा को लग गई थी। उसने रिपोर्ट करने की धमकी दी तो रिंकू कुशवाहा गढ़मुर्रा में रहने वाले अपने दोस्त धनीराम कुशवाहा (Dhaniram Kushwah) के साथ उसके पास पहुंच गया। धनीराम कुशवाहा चाय की दुकान चलाता था। वह भी उसके साथ घर पहुंचा और पैसे लौटाने की बात बोली। इसके बाद तीनों शराब पीने के लिए निकल गए। ग्राम सुखी शिवन्या स्थित दिलीप के खेत के पास बैठकर दोनों ने शराब पी। इसी दौरान आरोपियों ने कुल्हाड़ी से उस पर वार कर दिया। इसके बाद लाश और बाइक दोनों को बायपास पर फेंकने के बाद एम्बुलेंस को कॉल किया था। पुलिस ने भांजे रिंकू कुशवाह और दोस्त धनीराम कुशवाह के खिलाफ 336/23 धारा 302/201/34 (हत्या, सबूत मिटाने और एक से अधिक आरोपी का प्रकरण) दर्ज कर लिया है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: कुख्यात सूदखोर को पुलिस ने दबोचा 
Don`t copy text!