MP Political News: मंत्री का शाहपुरा थाने में धरना

Share

MP Political News: अपनी कार्यशैली के कारण अक्सर विवादों में रहने वाले एसआई और टीआई को हटाने की मांग पर अड़े, कैफे संचालक का आरोप उनके साथ भी की गई अभद्रता, आधी रात तक थाने में चलता रहा हंगामा, सीएम से मिले आश्वासन के बाद मंत्री थाने से हुए रवाना

MP Political News
शाहपुरा थाने में अपने बॉडी गार्ड के साथ मंत्री नरेंद्र शिवाजी पटेल। यह चित्र सोशल मीडिया में कई जगह वायरल हुआ है। इसके साथ कैफे में लगे कैमरे में मंत्री पुत्र के मारपीट करते हुए वीडियो भी वायरल हुए थे।

भोपाल। थाने के भीतर मंत्री धरने पर बैठ गए। यह हालात उस मध्य प्रदेश (MP Political News) की राजधानी के हैं जहां मुख्यमंत्री (MP CM) से लेकर कई विभागों के अफसर रहते हैं। मंत्री का आरोप था कि उनके बेटे के साथ मारपीट की गई है। इसलिए प्रकरण दर्ज किया जाए। वहीं लापरवाह पुलिस अफसरों को थाने से हटाया जाए। जबकि दूसरे पक्ष की तरफ से रेस्टोरेंट (Shahpura Cafe Dispute) चलाने वाली महिला और उनका पक्ष मंत्री पुत्र (Minister Son) के खिलाफ कार्रवाई चाहता था। दरअसल, मंत्री पुत्र पर आरोप है कि उन्होंने दंपति को उनके कैफे में घुसकर पीटा।

यह है वह घटनाक्रम जिसके बाद थाने में एक—एक करके जमावड़ा हुआ था शुरु

पुलिस सूत्रों के अनुसार त्रिलंगा में कैफे है। इसके ही नजदीक राज्य मंत्री नरेंद्र शिवाजी पटेल (Narendra Shivaji Patel) के बेटे अभिज्ञान पटेल उर्फ ईशु (Abhigyan Patel@Ishu) का वाहन टकरा गया था। जिससे वाहन टकराया वह एक मीडिया हाउस में काम करता है। यह मीडिया हाउस राजधानी के कॉपोरेट घराने का है। मीडिया हाउस के कर्मचारी को अभिज्ञान पटेल बुरी तरह से पीटने लगा। इस कारण वह जान बचाने के लिए नजदीक ही कैफे में घुसा। उसके पीछे—पीछे अभिज्ञान पटेल और उसके दोस्त भी चले गए। वहां भी घुसकर उसको पीटा जाने लगा। इस दौरान रेस्टोरेंट संचालक और उसके कर्मचारियों ने बीच—बचाव किया। लेकिन, मंत्री पुत्र और उनके दोस्तों ने रेस्टोरेंट संचालिका के पति के सिर पर गंभीर वार कर दिया। गदर होता देख रेस्टोरेंट के कर्मचारियों ने पुलिस को फोन लगाकर मारपीट और गदर की जानकारी दे दी। पुलिस मौके पर पहुंचती तब तक मंत्री पुत्र और उनके समर्थक मीडिया हाउस में काम करने वाले कर्मचारी को बाहर पीटते हुए ले आए। यह पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हुई है। जब पिटाई चल रही थी तभी वहां शाहपुरा थाने की पुलिस भी पहुंच गई। पुलिस ने जब मंत्री पुत्र को दबोचा तो उनके साथ अभद्रता करते हुए अपना रसूख दिखाया गया। इस कारण मंत्री पुत्र को तुरंत थाने ले जाया गया।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: सास और ननद की यातना से तंग आकर खाया था जहर

एफआईआर दर्ज न करने का बनाया गया दांव उल्टा पड़ा

पुलिस सूत्रों ने बताया कि थाने में मंत्री पुत्र की जबरदस्त गर्मी निकाली गई। इसके बाद यह बात उनके पिता नरेंद्र शिवाजी पटेल को पता चली। वह माजरा समझते उससे पहले शाहपुरा थाना पुलिस ने हमले में जख्मी तीन लोगों को जेपी अस्पताल पहुंचा दिया। जेपी अस्पताल में जिनका उपचार किया गया वह अलीसा सक्सेना पति डेनिस मार्टिन उर्फ सोनू उम्र 34 साल, सीताराम पिता हेमलाल उम्र 40 साल और विवेक सिंह पिता पर्वत सिंह उम्र 34 साल है। अलीसा सक्सेना (Alisa Saxena) चूना भट्टी थाना क्षेत्र स्थित पारिका सोसायटी के फेज—1 में रहती हैं। उन्हें मारपीट में आंख के बाएं तरफ चोट लगी है। वहीं माखनलाल यूनिवर्सिटी के पुराने भवन के नजदीक रहने वाले सीताराम (Sitaram) को चेहरे और पीट में चोट आई है। विवेक सिंह (Vivek Singh) को चेहरे में चोट आई है। बताया जा रहा है कि हमले में डेनिस मार्टिन (Denis Martin) के सिर पर गहरा घाव लगा है। इस पूरी कवायद की रोजनामचे में भी एंट्री डाली गई है। हालांकि 29—30 मार्च की दरमियानी रात लगभग एक बजे तक किसी तरह का मुकदमा पुलिस ने दर्ज नहीं किया था। शाहपुरा थाना प्रभारी रघुनाथ सिंह शक्तावत (Inspector Raghunath Singh Shaktawat) ने विवाद की पुष्टि कर दी है। उन्होंने बताया कि मंत्री महोदय से अभी चर्चा की जा रही है। कोई निर्णय होता है तो उसकी जानकारी साझा की जाएगी। हालात को देखते हुए शाहपुरा थाने में आधा दर्जन से अधिक थानों का बल तैनात कर दिया गया था। इसके अलावा भारी मात्रा में पुलिस अफसरों के वाहन पहुंचना शुरु हो गए थे। हालांकि यह सारी कवायद के बीच अफसर से लेकर थाना स्टाफ मीडिया से बातचीत करने में कतरा रहा था।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Loot : लुटेरों ने खोली अलर्ट की पोल, 15 घंटे में तीन वारदातों को दिया अंजाम

यह भी पढ़िएः तीन सौ रूपए का बिल जमा नहीं करने पर बिजली काटने के लिए आने वाला अमला, लेकिन करोड़ों रूपए के लोन पर खामोश सिस्टम और सरकार का कड़वा सच 

खबर के लिए ऐसे जुड़े

MP Political News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!