Fake Gold Loan: नकली सोने में हॉल मार्क लगाकर लोन लेने पहुंचे जालसाज

Share

Fake Gold Loan: जालसाजी का शिकार होने से बच गया आईसीआईसीआई बैंक, दो संदेहियों से चल रही पूछताछ

Fake Gold Loan
ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। आईसीआईसीआई बैंक जालसाजी का शिकार होते—होते बच गया। यह घटना भोपाल (Fake Gold Loan) शहर के बागसेवनिया इलाके की है। यहां बैंक में दो जालसाज सोना गिरवी रखने पहुंचे थे। उसमें बकायदा हॉलमार्क भी डला हुआ था। लेकिन, उसके शुद्धता की जांच में फर्जी होना पाया गया। इसके बाद यह मामला पुलिस थाने पहुंचा। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ जालसाजी का प्रकरण दर्ज कर लिया है। पुलिस के अधिकारी संदेहियों से घटनाक्रम के संबंध में पूछताछ कर रहे हैं।

ऐसे पकड़ में आई जालसाजी की घटना

बागसेवनिया (Bagsewaniya) थाना पुलिस के अनुसार इस मामले की शिकायत थाने में प्रणय सरवैया (Pranay Sarwaiya) पिता विष्णु प्रसाद सरवैया उम्र 30 साल ने दर्ज कराई है। वे बागमुगालिया स्थित पेवल वे कॉलोनी (Pebble Way Colony) फेज—1 में रहते हैं। हालांकि वे मूलत: बैतूल (Betul) जिले के रहने वाले हैं। प्रणय सरवैया आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) में रिलेशनशिप मैनेजर हैं। उन्होंने पुलिस को बताया कि ब्रांच निरूपम शॉपिंग मॉल (Nirupam Shopping Mall) में हैं। उनकी ब्रांच में 17 जुलाई को दो व्यक्ति सोना गिरवी रखकर लोन लेने पहुंचे थे। आरोपियों ने अपने आधार कार्ड पेश किए थे। जिसमें उनका नाम विजय सिंह (Vijay Singh) और तेज भान सिंह (Tejbhan Singh) था। सोने की जांच के लिए रंजीत सोनी को दिया गया।

पुलिस यह जता रही है संभावना

रंजीत सोनी (Ranjeet Soni) बैंक में एप्रेजर के पद पर तैनात हैं। आरोपियों के पास एक चेन, अंगूठी और सोने की चार चूड़ी थी। जांच में वे सारे जेवरात नकली पाए गए। बागसेवनिया पुलिस ने बयानों के आधार पर 459/23 धारा 420 (जालसाजी का प्रकरण) दर्ज कर लिया है। आरोपियों विजय सिंह और तेज भान सिंह ने बताया कि उन्हें तीसरे आदमी ने ऐसा करने के लिए बोला था।  पुलिस ने संभावना जताई है कि आरोपियों ने अपने आधार कार्ड भी फर्जी दिए हैं। पुलिस तीसरे आरोपी की तलाश कर रही है। जिसके लिए मोबाइल कॉल डिटेल की मदद ली जा रही है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Fake Gold Loan
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Oxygen Crisis: जेपी अस्पताल में कुछ घंटों का ऑक्सीजन, शहर में बिगड़े हालात
Don`t copy text!