RGPVV Fraud News: पूर्व कुलपति, कुलसचिव और वित्त नियंत्रक पर ईनाम 

Share

RGPVV Fraud News: राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के दर्जनों छात्रों ने पुलिस कमिश्नरेट कार्यालय के बाहर दिया था धरना, लुक आउट नोटिस जारी करने की भी तैयारी

RGPVV Fraud News
राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय भोपाल- फाइल फोटो

भोपाल। राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय में हुए करोड़ों रुपए के घोटाले के मामले में दर्ज प्रकरण में अब भोपाल पुलिस (RGPVV Fraud News) हरकत में आई है। इससे पहले पूरे प्रकरण को ठंडे बस्ते में डाला जा रहा था। इस बात से नाराज दर्जनों छात्रों ने भोपाल पुलिस कमिश्नरेट कार्यालय के बाहर प्रदर्शन किया था। इसका नतीजा यह हुआ कि पुलिस ने मामले में फरार चल रहे आरोपियों की गिरफ्तारी पर इनाम का ऐलान कर दिया है।

इन्हें पुलिस ने गिरफ्तार किया

भोपाल पुलिस की तरफ से जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार 03 मार्च को राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविघालय  Rajiv Gandhi Technological University) के कुल सचिव डाॅक्टर मोहन सेन (DR Mohan Sen) ने तत्कालीन कुलपति सुनील कुमार, कुलसचिव आरएस राजपूत, तत्कालीन वित्त नियंत्रक ऋषिकेश वर्मा, कुमार मयंक, दलित संघ सोहागपुर और अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। इन सभी पर यूनिवर्सिटी में 19 करोड़ 48 लाख रुपए का फर्जीवाड़ा करने का आरोप है। यह प्रकरण गांधी नगर थाना पुलिस ने दर्ज किया है। जिसमें 57/24 धारा 420/467/468/120—बी/409/7/13(1)/13(2) (जालसाजी, दस्तावेजों की कूटरचना, कूटरचित दस्तावेजों का गलत इस्तेमाल, साजिश और भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम 1988 और (संशोधन अधिनियम 2018) के तहत) जांच की जा रही है। यह जांच बैरागढ़ एसीपी कर रहे हैं। इस प्रकरण आरोपी कुमार मयंक (Kumar Mayank) को 22 मार्च को गिरफ्तार किया गया था। वह फिलहाल जेल में हैं।

मीडिया से बच रहे थे अब खुलकर बोले

पुलिस का कहना है कि प्रकरण में आरोपी सुनील कुमार गुप्ता, राकेश सिंह राजपूत, ऋषिकेश वर्मा के खिलाफ सबूत मिले हैं। इन्होंने फर्जी दस्तावेज तैयार करके यूनिवर्सिटी (RGPVV Fraud News) में फर्जीवाड़ा किया। तीनों आरोपी अभी भी फरार है। इस कारण आरोपी सुनील कुमार गुप्ता, राकेश कुमार राजपूत, ऋषिकेश वर्मा (Hrishikesh Verma) की गिरफ्तारी के लिए तीन—तीन हजार रुपए का इनाम घोषित किया गया है। यह ऐलान डीसीपी जोन—4 कार्यालय की तरफ से किया गया है। अतिरिक्त पुलिस आयुक्त कार्यालय को राशि बढ़ाने का भी प्रस्ताव भेजा गया है। आरोपी सुनील कुमार गुप्ता (Sunil Kumar Gupta) एवं आरोपी राकेश सिंह राजपूत (Rakesh Singh Rajput) के विरूद्ध लुक आउट नोटिस जारी करने के लिए नियमानुसार पत्र प्रेषित किया गया है। इस मामले में भोपाल पुलिस कोई भी जानकारी देने से बच रही थी। जब देखा कि मीडिया रिपोर्टिंग भी नहीं हो रही तो यूनिवर्सिटी के छात्र प्रदर्शन करने में उतर आए थे। जिस कारण अब पुलिस को अब तक हुई जांच के बारे में बताना पड़ा।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

RGPVV Fraud News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: कलारी के सामने जख्मी मिला युवक
Don`t copy text!