Bhopal Cyber Fraud: भेल के रिटायर्ड इंजीनियर के साथ सबसे बड़ी धोखाधड़ी

Share

Bhopal Cyber Fraud: कोलकाता से भोपाल आई केस डायरी, मल्टी नेशनल कंपनी में जॉब के लिए किया गया था संपर्क, कई किस्त में तीन जालसाजों ने जमा करा लिए डेढ़ करोड़ रूपए, सायबर फ्रॉड के लिंक तलाश रही पुलिस

Bhopal Cyber Fraud
सांकेतिक ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। भेल के सेवानिवृत्त इंजीनियर के साथ डेढ़ करोड़ रूपए की जालसाजी का मामला सामने आया है। यह भोपाल (Bhopal Cyber Fraud) शहर की सबसे बड़ी ऐसी धोखाधड़ी होगी जो पुलिस के लिए चुनौती का विषय है। इस घटना की एफआईआर पश्चिम बंगाल के कोलकाता शहर में स्थित थाने में की गई थी। लेकिन, पहला लेन—देन भोपाल के अयोध्या नगर इलाके से हुआ था। इसलिए केस कोलकाता पुलिस ने भोपाल को भेज दिया। यहां पुलिस ने डेढ़ करोड़ रूपए की धोखाधड़ी मामले में प्रकरण दर्ज कर लिया है।

सायबर क्राइम के बिना प्रकरण को सुलझाना संभव नहीं

अयोध्या नगर (Ayodhya Nagar) थाना पुलिस के अनुसार इस घटना की शुरूआत अक्टूबर, 2022 में हुई थी। तब पीड़ित अभिजीत सिन्हा (Abhijeet Sinha) पिता स्वर्गीय अजीत सिन्हा न्यू मीनाल (New Minal) इलाके में रहते थे। उस दौरान भेल (BHEL) से सेवानिवृत्त होने के बाद वे जॉब तलाश रहे थे। तभी उनके पास कॉल आए। फोन करने वाले व्यक्ति ने मल्टी नेशनल कंपनी में अच्छी जॉब दिलाने का लालच दिया। उसी वक्त इस कार्रवाई के नाम पर कुछ रकम आन लाइन आरोपियों ने खाते में डलवाए। इसके बाद अभिजीत सिन्हा भोपाल का मकान बेचकर पश्चिम बंगाल में स्थित अपने घर चले गए। वहां पहुंचकर भी वे आरोपियों के संपर्क में रहे। आरोपियों ने कई तरह की बातों में उलझाकर उनसे किस्त में डेढ़ करोड़ रूपए खाते में जमा करा लिए। इस दौरान आरोपियों ने बातचीत में अरूण गुप्ता (Arun Gupta) , रोहन और के.श्रीनिवासन (K Shrinivasan) बनकर बातचीत की थी। जब उन्हें अहसास हुआ कि उनके साथ जालसाजी हुई है तो वे कोलकाता (Kolkatta) में स्थित गफरा (Gaphra) थाने पहुंचे। वहां जीरो पर मुकदमा दर्ज करके केस डायरी भोपाल भेज दी गई। अयोध्या नगर थाना पुलिस ने 5 जुलाई की दोपहर लगभग दो बजे 311/23 धारा 420/120—बी/506 (जालसाजी, साजिश और धमकाने का मामला) दर्ज कर लिया है। प्रकरण की जांच एसआई गौरव सिंह (SI Gaurav Singh) को सौंपी गई है। वे भोपाल सायबर क्राइम (Cyber Crime) की मदद से आरोपियों के संबंध में जानकारी जुटा रहे हैं।
यह भी पढ़िएः तीन सौ रूपए का बिल जमा नहीं करने पर बिजली काटने के लिए आने वाला अमला, लेकिन करोड़ों रूपए के लोन पर खामोश सिस्टम और सरकार का कड़वा सच

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal Cyber Fraud
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   मध्यप्रदेश : गाय के साथ हैवानियत, विस्फोटक खिलाया, बुरी तरह जख्मी
Don`t copy text!