Bhopal News: सुअर को लेकर दो गुटों में खूनी संघर्ष

Share

Bhopal News: एक पक्ष ने चोरी करने का आरोप लगाया तो दूसरे पक्ष का दावा बातचीत के बहाने बुलाकर चाकू मारकर किया हमला

Bhopal News
सांकेतिक चित्र

भोपाल। सुअर पालने वाले दो गुटों के बीच खूनी संघर्ष हो गया। यह विवाद भोपाल (Bhopal News) शहर के अवधपुरी थाना क्षेत्र का है। जिसमें पुलिस ने दोनों पक्षों की शिकायत पर एक—दूसरे के खिलाफ मारपीट का काउंटर केस दर्ज किया है। हमले में एक पक्ष के दो व्यक्तियों को हमीदिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना की जानकारी पुलिस को अस्पताल से मिली थी।

यह बोलकर बिजली सब स्टेशन के नजदीक बुलाया

अवधपुरी (Awadhpuri) थाना पुलिस के अनुसार पहले पक्ष की तरफ से आकाश मकोरिया पिता आशाराम मकोरिया उम्र 21 साल ने प्रकरण दर्ज कराया है। वह बीडीए कॉलोनी (BDA Colony) में एक नंबर सेक्टर में रहता है। इस मामले में आरोपी प्रदीप, करण, विशाल, अजय और गप्पू है। आरोपियों के खिलाफ 260/23 धारा 294/323/324/506/34 (गाली—गलौज, मारपीट, धारदार हथियार से हमला, जान से मारने की धमकी और एक से अधिक आरोपी का प्रकरण) दर्ज किया गया है। हमले में जख्मी रिंकू मकोरिया (Rinku Makoriya) और आकाश मकोरिया (Akash Makoriya) को हमीदिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हमले की यह घटना 06 दिसंबर की रात लगभग नौ बजे हुई थी। प्रकरण की जांच करने हमीदिया अस्पताल (Hamidia Hospital) में एएसआई साहबलाल कुमरे (ASI Sahablal Kumre) पहुंचे थे। आकाश मकोरिया ने बताया कि वह पुताई का काम करता है। जख्मी उसके दोनों भाई हैं। रिंकू मकोरिया के पास करन का फोन आया था। उसने सुअर के धंधे को लेकर बुलाया। वेदवती कॉलोनी के नजदीक बने पॉवर हाउस पर वह कृष को लेकर वहां चला गया। वहां करन के अलावा प्रदीप और विशाल भी थे।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Oxygen Crisis: जेपी अस्पताल में कुछ घंटों का ऑक्सीजन, शहर में बिगड़े हालात

दूसरे पक्ष ने यह लगाए हैं आरोप

तीनों आरोपी रिंकू मकोरिया को गाली देने लगे। विरोध करने पर करन ने आकाश मकोरिया को गर्दन के पास छुरी मार दी। उसे बचाने रिंकू आया तो कृष ने डंडा उसे सिर पर मारा। उसके बाद दो अन्य आरोपी अजय और गप्पू भी आ गए। यह पता चलने पर घायल युवकों की मां रानी मकोरिया (Rani Makoriya) भी वहां पहुंची। उसे भी डंडे से विशाल ने पीट दिया। इधर, दूसरे पक्ष (Bhopal News) से करन समुद्रे (Karan Samudre) पिता प्रेमचंद समुद्रे उम्र 25 साल ने प्रकरण दर्ज कराया। वह पिपलानी स्थित सौ क्वार्टर में रहता है। उसने बताया कि राजू गिरी (Raju Giri) से पता चला था कि रिंकू मकोरिया, उसके पिता देशराज मकोरिया (Deshraj Makoriya) और भाई आकाश मकोरिया सुअर ले गए हैं। यह पता चलने पर वह भाई विशाल समुद्रे और प्रदीप समुद्रे (Pradeep Samudre) ने उनका पीछा किया। वे पॉवर हाउस में मिले तो विरोध करने पर गाली—गलौज करने लगे। विरोध करने पर रिंकू मकोरिया, उसके पिता देशराज मकोरिया ने लाठी से पीटना शुरू कर दिया। पुलिस ने इस मामले में 260—261/23 (मारपीट का काउंटर केस) दर्ज कर लिया है।

यह भी पढ़िएः तीन सौ रूपए का बिल जमा नहीं करने पर बिजली काटने के लिए आने वाला अमला, लेकिन करोड़ों रूपए के लोन पर खामोश सिस्टम और सरकार का कड़वा सच

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Fraud News: सरकारी फ्लैट को कर्मचारी ने बेचा 
Don`t copy text!