कर्जमाफी पर कांग्रेस ने पेश किए सबूत, किसानों को ले आए विधायक कुणाल चौधरी

Share

50 किसानों के साथ की प्रेस वार्ता, पासबुक में दिखाई एंट्री

Kisan Karjmafi
प्रेदश कांग्रेस कार्यालय में प्रेसवार्ता

भोपाल। मध्यप्रदेश में होने वाले उपचुनाव (MP By Election) में किसान कर्जमाफी (Kisan Karjmafi) सबसे बड़ा मुद्दा बनती जा रही है। एक तरफ कांग्रेस अपने दावे को सच साबित करने की पुरजोर कोशिश कर रही है। तो दूसरी तरफ भाजपा मानने को तैयार नहीं है कि किसानों का कर्जमाफ हुआ था। हालांकि शिवराज सरकार ने विधानसभा में माना है कि कमलनाथ सरकार ने करीब 27 लाख किसानों का कर्ज माफ किया था। कांग्रेस अध्यक्ष कर्जमाफी के सबूत के तौर पर पेनड्राइव वितरित कर चुके है। अब कांग्रेस विधायक कुणाल चौधरी ने किसानों को ही सबूत-गवाह के तौर पर पेश कर दिया। रविवार को चौधरी ने किसानों के साथ प्रेस वार्ता को संबोधित किया।

‘कर्जमाफी पर झूठ बोल रही भाजपा’

Kisan Karjmafi
प्रेसवार्ता करते विधायक कुणाल चौधरी

विधायक कुणाल चौधरी ने आज एक प्रेस कान्फ्रेंस में ऐसे कई किसानों को प्रस्तुत किया जिनके बैंक खातों में कमलनाथ सरकार ने कर्जमाफी के पैसे ट्रांसफर किए थे। कुणाल चौधरी ने सबूत के साथ बताया कि कांग्रेस की कमलनाथ सरकार ने 26 लाख 95 हज़ार किसानों का क़र्ज़ माफ़ किया है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी कर्जमाफी को लेकर सिर्फ झूठ बोलते हुए, दुष्प्रचार करती रही है।

सुनिए क्या कहा कुणाल चौधरी और किसानों ने

कर्जमाफी..किसानों की जुबानी..पीसीसी में प्रेस वार्ता लाइव

Gepostet von The Crime Info am Samstag, 26. September 2020

‘विधानसभा में सच सामने आया’

कुणाल चौधरी ने कहा कि विधानसभा में खुद किसान कल्याण मंत्री कमल पटेल सदन में बताया कि कांग्रेस की कमलनाथ सरकार ने करीब 27 लाख किसानों का कर्जमाफ किया। लेकिन उसके बाद भी सीएम शिवराज सिंह चौहान और मिस्टर जयचंद ज्योतिरादित्य सिंधिया हर मंच से बोल रहे है कि किसानों का क़र्ज़ माफ़ी नहीं हुई, इससे भारतीय जनता पार्टी का चाल, चरित्र और चेहरा सामने आता है।

यह भी पढ़ें:   भारत बचाओ रैली : साजिश के तहत लेट की गई कांग्रेस कार्यकर्ताओं की स्पेशल ट्रेन, PCC के 26 लाख बर्बाद

पत्रकार वार्ता में कालापीपल क्षेत्र के 50 से अधिक किसान अपनी पासबुक खाता बही और प्रमाण पत्र लेकर आए और उन्होंने अपनी बैंक पासबुक में 1 लाख 92000 तक के कर्ज माफी की एंट्री दिखाई और मीडिया के सवालों का जवाब भी दिया।

यह भी पढ़ेंः मध्यप्रदेश में बड़ा घोटाला, बलराम तालाब के नाम पर डकार गए करोड़ों रुपए, अधिकारियों के साथ किसान भी आरोपी

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!