Bhopal Fraud News: शराब कंपनी से डेढ़ करोड़ रुपए की जालसाजी 

Share

Bhopal Fraud News: आबकारी विभाग से रिटायर्ड अफसर ने किया फर्जीवाड़ा, कोर्ट के आदेश पर दर्ज किया गया मुकदमा

Bhopal Fraud News
सांकेतिक ग्राफिक डिजाइन टीसीआई।

भोपाल। आबकारी विभाग से रिटायर्ड एक अफसर पर फर्जीवाड़ा करने का संगीन आरोप लगा है। यह आरोप शराब कंपनी के संचालक ने लगाया है। घटना भोपाल (Bhopal Fraud News) शहर के शाहपुरा थाना क्षेत्र की है। पुलिस ने अदालत के आदेश पर प्रकरण दर्ज किया है। घटना 2022 की है जिसमें आरोप है कि रिटायर्ड अफसर ने करीब सवा एक से डेढ़ करोड़ रुपए का फर्जीवाड़ा किया। यह रकम आबकारी विभाग के राजस्व से जुड़ी थी। जिसको सरकार के खाते में ट्रांसफर करना था। लेकिन, उसने गबन कर लिया।

ऐसे सामने आया पूरा फर्जीवाड़ा

शाहपुरा (Shahpura) थाना पुलिस के अनुसार ई—7 शाहपुरा में वनिशा मिनरल्स प्रायवेट लिमिटेड कंपनी(Vanisha Minerals Private Limited Company)  है। जिसकी संचालिका स्वर्णा श्रीवा​स्तव (Swarna Shrivastav) पति मनीष श्रीवास्तव उम्र 50 साल है। वे यहां शाहपुरा स्थित ए—सेक्टर में रहती हैं। उनकी कंपनी में केशवराम बघेल (Keshavram Baghel) बतौर मैनेजर नियुक्त हुए थे। उनके पास कंपनी की आय—व्यय के अलावा सरकारी उपक्रमों में चुकाए जाने वाले कर आदि के भुगतान की जिम्मेदारी भी थी। जिसके लिए कंपनी का विधिवत एक खाता भी था। स्वर्णा श्रीवास्तव की कंपनी को विदिशा (Vidisha) में शराब का ठेका मिला था। यह ठेका वनिशा मिनरल्स प्रायवेट लिमिटेड को मिला था। कंपनी 2013 से रजिस्टर्ड है। विदिशा की शराब बेचने को लेकर आबकारी विभाग को कर चुकाने का काम केशवराम बघेल देखते थे। उन्हें नौकरी में रखा ​इसलिए गया था क्योंकि वे आबकारी विभाग (Excise Department) के पूर्व कर्मचारी थे। उन्हें नियमों के बारे में जानकारी थी। उनके फर्जीवाड़े का पता तब चला जब कंपनी को आबकारी विभाग से रिकवरी का नोटिस मिला। कंपनी ने पड़ताल की तो पता चला कि ​केशवराम बघेल कंपनी के खाते की बजाय अपने निजी खाते में रकम जमा कर रहे थे। उन्होंने पैसा न चुकाकर कंपनी को नुकसान पहुंचाया। इस संबंध में पुलिस की तरफ से 2022 में कोई कार्रवाई नहीं की गई। इस कारण पीड़िता को अदालत की शरण में जाना पड़ा। अदालत ने दलील और सबूतों को देखने के बाद पुलिस को प्रकरण दर्ज करने के आदेश दिए। शाहपुरा थाना पुलिस ने 5 अप्रैल की दोपहर लगभग 12 बजे 135/23 धारा 420/406/408/467/471 (जालसाजी, गबन, कंपनी की रकम को हड़पना, दस्तावेजों की कूटरचना और कूटरचित दस्तावेजों का इस्तेमाल करने का प्रकरण) दर्ज कर लिया है। मामले की जांच एएसआई मुंशीराम धाकड़ (ASI Munshi Ram Dhakad) कर रहे हैं।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal Fraud News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime: बेटे की हा—ना में पिता ने खाया सल्फास
Don`t copy text!