Bhopal News: जीएमसी में कई छात्रों के लैपटॉप और गैजेट्स चोरी 

Share

Bhopal News: जूनियर डॉक्टरों के प्रतिनिधि मंडल ने थाने में जाकर दर्ज कराई एफआईआर, पुलिस को जीएमसी के ही व्यक्ति पर शक

Bhopal News
सांकेतिक चित्र

भोपाल। जीएमसी हॉस्टल के छात्रों का सामान चोरी चला गया। यह वारदात भोपाल शहर के कोहेफिजा (Kohefiza) थाना क्षेत्र की है। जिनका सामान चोरी गया वे अधिकांश जूनियर डॉक्टर हैं। घटना के बाद एक प्रतिनिधि मंडल ने थाने में जाकर मामला दर्ज कराया। पुलिस की टीम सीसीटीवी की मदद से मामले की तहकीकात कर रही है।

चार जूनियर डॉक्टरों का यह था कीमती सामान

कोहेफिजा (Kohefiza) थाना पुलिस के अनुसार वारदात 29 जनवरी की लगभग सुबह नौ बजे पता चली थी। हमीदिया अस्पताल में स्थित गांधी मेडिकल कॉलेज (GMC) के हॉस्टल में रह रहे छात्रों के अलग—अलग कमरे में हुई थी। जिसकी शिकायत डॉ मोहित कुमार (Dr Mohit Kumar) पिता हरिमोहन प्रजापति उम्र 24 साल ने दर्ज कराई हैं। उन्होंने बताया कि उनके अलावा डॉ वरुण विश्वास (Dr Arun Vishwas) पिता विश्वनाथ विश्वास, डॉ कल्पित दुबे (Dr Kalpit Dubey) पिता कृष्णबिहारी दुबे, डॉ शिवा शामी(Dr Shiva Shami)  पिता शिवकुमार शामी के सामान चोरी गए हैं। चारों जूनियर डॉक्टर हैं और हॉस्टल (GMC Hostel) में रहते हैं। जब यह वारदात हुई तब चारों ड्यूटी पर थे। वापस आकर देखा तो डॉ मोहित कुमार का लैपटॉप नहीं मिला। इसी तरह डॉ वरुण विश्वास के कमरे से उसकी स्मार्ट वाच गायब थी। डॉ रामकुमार के दो लैपटाप बैग जिसमें 10500 रुपए गायब थे। वहीं तीन क्रेडिट कार्ड और दो डेबिट कार्ड भी नहीं थे। डॉ कल्पित दुबे और डॉ शिवा शामी के कमरे में भी सामान बिखरा था। यह सभी कमरे ई और बी ब्लाक में थे। पुलिस ने चोरी गए सामान की कीमत 80 हजार रुपये बताई है। पुलिस ने 53/24 में मुकदमा दर्ज कर लिया है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Dowry Killing: शादी के सवा एक साल बाद फंदे पर इसलिए झूली थी युवती
Don`t copy text!