Bhopal News: लो फ्लोर बस कंडक्टर की जेब काटी

Share

Bhopal News: पीछा करके एक संदिग्ध को पकड़ा, रकम लेकर बाकी साथी हो गए फरार, पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

BHopal News
दिए गए नंबर पर संपर्क करें।

भोपाल। सिटी बस में यात्रियों के सामान चोरी करने वाले गिरोह ने कंडक्टर की जेब काट दी। इस बात का अहसास होते ही कंडक्टर ने पीछा करके एक संदेही को दबोच लिया। जबकि उसके बाकी साथी फरार होने में कामयाब रहे। यह घटना भोपाल (Bhopal News) शहर के कोहेफिजा थाना क्षेत्र की है। जिसमें पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर संदिग्ध को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया हैं।

साथियों की तलाश में पुलिस टीम ने दी दबिश

कोहेफिजा (Kohefiza) थाना पुलिस के अनुसार यह वारदात अवधपुरी से चिरायु अस्पताल के बीच चलने वाली एसआर—5 रूट की बस में हुई थी। जिसमें राकेश मीणा (Rakesh Meena) पिता गोपाल सिंह मीणा उम्र 34 साल कंडक्टर हैं। वह ईटखेड़ी इलाके में रहता है। राकेश मीणा ने बताया कि वह एमपी—04—पीए—3882 में सवार यात्रियों से किराया वसूल रहा था। बस में भीड़ अधिक होने के कारण ऐसा वह गेट पर खड़े होकर ही कर रहा था। घटना 28 जुलाई की शाम लगभग साढ़े पांच बजे हुई। संदिग्ध कैंसर अस्पताल से बस में नादरा बस स्टैंड (Nadra Bus Stand) जाने के लिए सवार हुए थे। आरोपियों ने जेब में हाथ डालकर सवारियों से जमा रकम को पेंट की जेब से निकाल लिया। हमीदिया अस्पताल (Hamidia Hospital) गेट के सामने पहुंचने पर रकम नहीं मिली। बस रूकते ही संदिग्ध उतरकर भागने लगे। जिसमें एक संदिग्ध  शहबाज (Shahbaz) को उसने दबोच लिया। उसको पकड़कर वाहन चालक संजय गौर (Sanjay Gaur) के साथ वह थाने पहुंचे। पुलिस ने 523/23 धारा 379 (खुले स्थान से चोरी का प्रकरण) दर्ज कर लिया है। पुलिस की टीम शहबाज के अन्य साथियों की तलाश कर रही है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   मुख्यमंत्री आवास में अनियमित बिजली आपूर्ति, इंजीनियर की नौकरी पर खतरा
Don`t copy text!