Guest Faculty Teacher Protest: एमपी में गेस्ट फैकल्टी नेपोटिज्म की शिकार

Share

Guest Faculty Teacher Protest: सरोजनी नायडू कॉलेज में तीन वर्गों में विभाजित शिक्षक, मेन गेट के सामने धरना देकर खोली सरकार की पोल

YouTube video

वीडियो देखने के बाद जरूर कमेंट करें

भोपाल। मध्यप्रदेश में लगभग 94 हजार से अधिक प्राथमिक, माध्यमिक, हाई स्कूल और उच्चतर माध्यमिक विद्यालय हैं। इनकी हालात काफी बदतर हैं यह बात 19 दिसंबर को विधानसभा में पूछे सवालों में शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार (Minister Inder Singh Parmar) के जवाब से सामने आई थी। कई सरकारी स्कूलों में अतिथि शिक्षकों (Guest Faculty Teacher Protest) के भरोसे एजुकेशन सिस्टम चल रहा है। प्रदेश के कई सरकारी और स्वशासी कॉलेजों में भी ऐसे ही नेपोटिज्म यानि भाई—भतीजावाद किया जा रहा है। यह पोल सरोजनी नायडू शासकीय कन्या स्नातकोत्तर स्वशासी महाविद्यालय (Sarojni Naidu College) के मेन गेट पर धरना दे रहे शिक्षकों ने खोली। सभी गेस्ट फेकल्टी समान काम और समान वेतनमान की मांग को लेकर दो दिवसीय सांकेतिक प्रदर्शन कर रहे हैं।

इसलिए नाराज है गेस्ट फेकल्टी

प्रदर्शन कर रहे गेस्ट फेकल्टी ने बताया कि कॉलेज प्रबंधन आवश्यकता अनुसार भर्तियां करता रहता है। यह कॉलेज की अनुशंसा पर किया जाता है। इसी तरह उच्च शिक्षा विभाग भी भर्तियां करता है। कॉलेज प्रबंधन जो भर्तियां करता है उन्हें स्व वित्तीय फेकल्टी कहा जाता है। जबकि उच्च शिक्षा विभाग की तरफ से होने वाली भर्तियों को उच्च विद्वान नाम से जाना जाता है। सरोजनी नायडू कॉलेज प्रबंधन ने करीब दो दर्जन भर्तियां की है। जिन्हें प्रति कक्षा एक हजार रूपए का भुगतान होता है। जबकि उच्च शिक्षा विभाग से नियुक्ति पाने वाले गेस्ट फेकल्टी को डेढ़ हजार रूपए प्रति कक्षा वेतन दिया जाता है। इसी भाई—भतीजावाद के खिलाफ गुरुवार को प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शकारियों का आरोप था कि उनसे उतना ही काम लिया जाता है जितना उच्च शिक्षा विभाग से तैनात गेस्ट फेकल्टी को मिलता है।

चेहरा देखकर बांट रहे रेवड़ी

Guest Faculty Teacher Protes
कॉलेज गेट के बाहर प्रदर्शन करते गेस्ट फेकल्टी।

प्रदर्शनकारी शिक्षकों का आरोप था कि उच्च शिक्षा विभाग से तेरह फेकल्टी टीचिंग (Guest Faculty Teacher Protest) का काम करते हैं। प्रदर्शनकारियों का आरोप था कि प्रदेश के दूसरे कॉलेजों में यह भाई—भतीजावाद समाप्त हो चुका है। लेकिन, सरोजनी नायडू कॉलेज प्रबंधन अपनी तरफ से इस विषय को लेकर कोई रूचि नहीं ले रहा। मेन गेट के बाहर बैठने से पहले अतिथि शिक्षकों ने कॉलेज प्रबंधन से कई बार पत्राचार भी किया था। प्रदर्शन के दौरान वे छात्राएं जिनसे वे शिक्षा ग्रहण करते हैं, उन्हें समान काम और समान वेतनमान की तख्तियां लेकर बैठे हुए  देखा। कुछ ने आते—जाते तस्वीर भी कैद की।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: युवती की फंदे पर लटकी मिली लाश

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Guest Faculty Teacher Protest
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!