MP Cop Gossip: संकट में काम आए पुराने सिपहसलार 

Share

MP Cop Gossip: कैबिनेट के एक मंत्री ने दूसरे राज्य मंत्री को विवादों से बाहर आने में पिछले दरवाजे के रास्ते की मदद

MP Cop Gossip
सांकेतिक ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। मध्यप्रदेश पुलिस महकमा काफी बड़ा होता है। जिसमें भीतर ही भीतर बहुत कुछ चल रहा होता है। ऐसे ही बातों का यह हमारा साप्ताहिक कॉलम एमपी कॉप गॉसिप (MP Cop Gossip) है। जिसमें हम वह बातें आपसे साझा करते हैं जिनके कोई सबूत नहीं होते। ऐसे ही दो मामले आपके लिए इस बार गुदगुदा सकते हैं। हमारा मकसद व्यवस्थाओं को कम—ज्यादा आंकना नहीं हैं। वहीं किसी पद, व्यक्ति को कमतर आंकना। इसके जरिए केवल यह संदेश देना है कि बातें नहीं छुपती।

आयोग के पास जाना पड़ा

रीवा जिले के मउगंज में तैनात अफसर के खिलाफ कांग्रेस लामबंद हो गई है। यह अफसर अनुराग पांडे हैं। राज्य पुलिस सेवा के अफसर पर कांग्रेस ने निष्पक्ष न होकर चुनाव कार्य पर बाधा पहुंचाने का आरोप लगाया है। कांग्रेस का यह भी आरोप है कि वे भाजपा लोकसभा के उम्मीदवार जर्नादन मिश्रा के रिश्तेदार भी है। अनुराग पांडे भोपाल के कई थानों में भी तैनात रहे हैं। इसके अलावा सीआईडी से लेकर दूसरी अन्य शाखाओं का अनुभव भी है। लेकिन, यह नाम जिन कारणों से सुर्खियों में आया वह एक कार्रवाई है। यदि उसकी बारीकी से जांच हुई तो संकट आ सकता है। बहरहाल कांग्रेस ने शोर तो मचाया है लेकिन वह सफल हो सकेगी यह आने वाला वक्त ही बताएगा।

सार यह है कि धन है तो दम है

MP Cop Gossip
सांकेतिक ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

पिछले दिनों एक मंत्री अपने पुत्र मोह के चलते काफी सुर्खियों में आए। उन्होंने तीन दिनों तक तो भोपाल की मीडिया को कुछ नहीं समझा। जब लगातार कवरेज होने लगा तो केंद्रीय नेतृत्व जागा। जिसके बाद मंत्री न्यूट्रल हुए और अपने दांव—पेंच पर चुप्पी तोड़ी। उसके बाद मैन स्ट्रीम मीडिया में उनके पक्ष में खबरें आने लगी। साक्षात्कार प्रकाशित होने लगे। इतना ही नहीं वह पीड़िता जो घटना (MP Cop Gossip) के दूसरे दिन मीडिया से न्याय की गुहार लगा रही थी उन्होंने भी चुप्पी साध ली। अब भीतर की खबर यह है कि जिस रेस्टोरेंट के कर्मचारी इस पूरे एपिसोड का गवाह था उसके रास्ते तोड़ निकाला गया। वह रेस्टोरेंट में पार्ट टाइम जॉब करता था। इसके अलावा वह ब्यूरोक्रेसी के एक बड़े अधिकारी के बंगले में साहब की सेवा करता है। साहब जिस विभाग से जुड़े है उसकी कुर्सी दूसरे मंत्री के प्रयासों से मिली थी। जिसका कर्ज चुकाने की बारी आई। अब आलम यह है कि थाने में दर्ज काउंटर मामले में सबकुछ स्याही फैलने वाला है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: व्हाट्स एप चैट के बाद अब सिक्योरिटी का लैटर वायरल

खबर के लिए ऐसे जुड़े

MP Cop Gossip
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!