MP Scam Extortion: सात करोड़ रूपए की रंगदारी वसूली

Share

MP Scam Extortion: ईओडब्ल्यू के तत्कालीन एसआई समेत तीन व्यक्तियों के खिलाफ जालसाजी और ब्लैकमेलिंग का मामला दर्ज

MP Scam Extortion
सांकेतिक ग्राफिक डिजाईन टीसीआई।

भोपाल। मध्यप्रदेश में भ्रष्टाचार (MP Scam Extortion) की जड़े काफी गहरी होती चली गई है। पिछले दिनों भोपाल शहर के कोलार थाने में स्वर्ण आभूषण कारोबारी का मामला उजागर हो चुका है। अब प्रदेश में सरकारी सिस्टम के भ्रष्टाचार में अंकुश लगाने बने ईओडब्ल्यू के तत्कालीन एसआई का सनसनीखेज मामला सामने आया है। आरोप है कि तत्कालीन एसआई ने दो अन्य साथियों की मदद से खरगोन के कारोबारी से सात करोड़ रूपए की रंगदारी वसूल ली। ऐसा करने के लिए उसने कभी सीबीआई तो कभी रिजर्व बैंक के जाली नोटिस की मदद ली थी।

इंदौर क्राइम ब्रांच के अ​फसरों से भी मांगी थी मदद

ईओडब्ल्यू थाने में 09/23 धारा 420/467/383/120—बी/7(ग) (जालसाजी, दस्तावेजों की कूटरचना, ब्लैकमेलिंग, साजिश और भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के संशोधन नियम) के तहत मुकदमा 20 फरवरी को दर्ज किया गया। इसकी शिकायत 15 फरवरी को ईओडब्लयू में हुई थी। इसकी शिकायत खरगोन निवासी इशित्व सोनी (Ishitva Soni) ने दर्ज कराई थी। जिसकी जांच के बाद खरगोन (Khargone) स्थित राजेन्द्र नगर निवासी आशिक उर्फ बबलू खान पिता इस्माइल खान और इंदौर (Indore) निवासी सौरभ दुबे पिता राजेश दुबे को आरोपी बनाया गया। इस मामले में तीसरा आरोपी इतेन्द्र चौहान पिता एलएस चौहान को बनाया गया है। जारी प्रेस विज्ञप्ति में बताया गया है कि इतेन्द्र चौहान (Itendra Chouhan) पहले ईओडब्ल्यू में ही तैनात था। तीनों आरोपियों ने मिलकर कई किस्त में करीब सात करोड़ रूपए रंगदारी के वसूल लिए हैं। आरोपी सौरभ दुबे (Saurbh Dubey), बबलू खान (Babloo Khan) और इतेन्द्र चौहान कभी आरबीआई के फर्जी नोटिस और सीबीआई की फर्जी जांच का हवाला देकर ऐसा कर रहे थे। जांच में यह भी पता चला है कि इतेन्द्र चौहान ने इंदौर क्राइम ब्रांच के कुछ अफसरों से भी ऐसा करने के लिए मदद मांगी थी। जिसके बाद यह पूरा मामला सामने आया। हालांकि उनके नाम और पद का खुलासा नहीं किया गया है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Cop News: कोलार और चूना भट्टी थाने के पांच कर्मचारी इधर—उधर

यह भी पढ़िएः तीन सौ रूपए का बिल जमा नहीं करने पर बिजली काटने के लिए आने वाला अमला, लेकिन करोड़ों रूपए के लोन पर खामोश सिस्टम और सरकार का कड़वा सच

YouTube video

मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक कार्यक्रम के दौरान यह बात की थी। वीडियो के आखिर में सुनिए, सिस्टम की संवेदनशीलता उजागर हो जाएगी।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

MP Scam Extortion
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!