Bhopal Suspicious Death: दुर्घटना में जख्मी व्यक्ति की ​डिस्चार्ज के बाद फिर अस्पताल में हो गई मौत

Share

Bhopal Suspicious Death: डंपर की टक्कर से 11 दिन पहले हुआ था जख्मी, अस्पताल में हुआ था सफल ऑपरेशन

Bhopal Suspicious Death
सांकेतिक चित्र

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में एक व्यक्ति की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत (Bhopal Suspicious Death) हो गई है। वह 11 दिन पहले डंपर की टक्कर से जख्मी हुआ था। उसका निजी अस्पताल में ऑपरेशन भी किया गया था। जिसके बाद उसको चैकअप के लिए दोबारा अस्पताल बुलाया गया था। यहां अस्पताल में उसकी मौत हो गई। फिलहाल पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया है।

घर में था इकलौता कमाने वाला

सुखी सेवनिया थाना पुलिस के अनुसार लीलावती अस्पताल (Bhopal Leelavati Hospital) से 20 अप्रैल की शाम लगभग पांच बजे एक व्यक्ति के मौत होने की सूचना दी गई थी। पुलिस को बताया गया था कि एक व्यक्ति दुर्घटना में जख्मी होकर आया था। उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने मर्ग कायम किया। शव की पहचान सुरेश मीना पिता कैलाश मीना उम्र 35 साल के रुप में हुई। वह चाचोड़ा का रहने वाला था। सुरेश मीना (Suresh Meena) की डेयरी है। वह दूध सप्लाई करके वापस घर जा रहा था। तभी इमलिया के पास डंपर ने उसकी बाइक में टक्कर मार दी थी। हादसे में उसका पैर फ्रैक्चर हुआ था। सुरेश घर का इकलौता बेटा था। यह दुर्घटना 8 अप्रैल की शाम हुई थी।

यह भी पढ़ें: अस्पताल में तो ऑक्सीजन आज नहीं तो कल पहुंच जाएगा लेकिन यह जो तस्वीरें आ रही है उसे कोई भी इतनी आसानी से नहीं भूल सकता

डंपर हो चुका है जब्त

Bhopal Suspicious Death
File Image

तभी से उसका अस्पताल में इलाज चल रहा था। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर उस वक्त डंपर जब्त कर लिया था। इलाज के दौरान सुरेश मीना का ऑपरेशन भी हुआ था। उसको शरीर में रॉड भी डाली गई थी। अस्पताल से वह डिस्चार्ज भी हो गया था। उसको अस्पताल में रॉड निकालने के लिए वापस जाना था। उसी वक्त उसकी तबीयत बिगड़ी और मौत हो गई। मामले की जांच कर रहे एएसआई बीपी बुंदेला (ASI BP Bundela) का कहना है कि शव पीएम के लिए भेजा गया है। रिपोर्ट मिलने के बाद जांच के बिंदु तय किए जाएंगे।

यह भी पढ़ें:   भेल के मुन्ना भाई को बचाने प्रबंधन के अफसर तीन साल तक बने रहे गांधारी
Don`t copy text!