Bhopal Fraud News: आधा करोड़ रुपए की रकम लेकर भागे युवक—युवती

Share

Bhopal Fraud News: बंटी—बबली ने मिलकर एप्को के अफसर से लेकर चाय की दुकान वाले को भी नहीं बख्शा, एक साल पहले किस शहर से आए और किस ओर भाग गए शातिर जालसाज वह पुलिस के लिए पहेली बना, जिस थाने में दर्ज हुआ फर्जीवाड़े का मुकदमा वहां एक महीने पहले पुलिस ने किया था गिरफ्तार

Bhopal Fraud News
ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल शहर की पुलिस एक शातिर बंटी—बबली को तलाश रही है। यह युवक—युवती भोपाल (Bhopal Fraud News) शहर के हबीबगंज थाना क्षेत्र में स्थित मल्टी में एक साल पहले किराए से रहने आए थे। दोनों लोगों से पति—पत्नी एक—दूसरे को बताते थे। उन्होंने अलग—अलग जगह आउटसोर्स में नौकरियां की थी। इस दौरान जालसाज दंपति ने एप्को में एक अफसर से लेकर चाय की गुमठी चलाने वाले, मैकेनिक से लेकर कॉलोनी के आस—पास रहने वाले कई लोगों से अलग—अलग बहाने से रकम ऐंठ ली। यह रकम अब तक करीब 55 लाख रुपए पहुंच गई है। पुलिस को जालसाज बंटी—बबली से पीड़ित करीब पांच लोगों की शिकायतें मिल चुकी हैं। पुलिस को यह भी लगता है कि यह संख्या आगे बढ़ेगी। फिलहाल शातिर जालसाज को तलाशना पुलिस केे लिए चुनौती बन गया है।

एप्को के अधिकारी ने जो रकम बताई वह पुलिस के गले नहीं उतर रही

ह​बीबगंज (Habibganj) थाना पुलिस के अनुसार आरोपी छोटू लोधी और काजल लोधी (Kajal Lodhi) हैं। दोनों श्याम नगर (Shyam Nagar) में स्थित मल्टी में किराए से रहते थे। छोटू लोधी (Chotu Lodhi) की पर्यावास भवन में सिक्योरिटी गार्ड की जॉब आउटसोर्स में लगी थी। इसी दौरान उसने एप्को (EPCO) में तैनात दुष्यंत शर्मा (Dushyant Sharma) से परिचय बढ़ाया। उसने कंपनी में निवेश करने का झांसा देकर किस्त में करीब 42 लाख रुपए ऐंठ लिए। पुलिस के गले यह रकम नीचे नहीं उतर रही। दुष्यंत शर्मा मूलत: राजस्थान (Rajasthan) के जोधपुर (Jodhpur) में रहने वाले हैं। यहां पर्यावास भवन (Paryavas Bhawan) में स्थित दी इंवायरमेंटल प्लानिंग एंड कोआर्डि​नेशन आर्गेनाइजेशन में जॉब करते हैं। यह संस्था पर्यावरण बदलाव और शहरी विकास में मानचित्र बनाने का काम करती है। पर्यावास भवन से नौकरी छूटने के बाद आरोपी छोटू लोधी बिट्टन मार्केट (Bittan Market) में स्थित एक फर्म में जॉब करने लगा। यहां उसका परिचय विनोद मीना (Vinod Meena) से हुआ। उसको झांसा देकर करीब साढ़े चार लाख रुपए ऐंठ लिए। विनोद मीना मार्केटिंग का काम करते हैं जिसको आरबीआई की स्कीम बताकर चालीस फीसदी कमीशन ज्यादा दिलाने का लालच दिया गया था।

मां की बीमारी का झांसा देकर पत्नी ने रकम ऐंठ ली

हबीबगंज थाना पुलिस के अनुसार नवल लोधी (Naval Lodhi) पिता भगवान सिंह लोधी उम्र 58 साल की शिकायत पर प्रकरण दर्ज किया गया है। वह ईश्वर नगर (Ishwar Nagar) में स्थित मल्टी में रहता है। वह चाय की गुमठी चलाता है। नवल लोधी को आरोपी छोटू लोधी और उसकी पत्नी काजल लोधी फूफा बोलकर रिश्ता बनाए हुए थे। नवल लोधी से फर्म (Farm) में निवेश कराने का झांसा (Bhopal Fraud News) देकर पांच लाख रुपए लिए गए थे। इसके बाद श्याम नगर में जिस मल्टी में आरोपी दंपति रहते हैं वहां नजदीक रहने वाली प्रिया सूर्यवंशी (Priya Suryavanshi) से भी 65 हजार रुपए लिए गए। यह रकम काजल लोधी ने उसकी मां के इलाज के लिए बोलकर लिए थे। फिर छोटू लोधी ने उसको लालच दिया कि वह उसकी आरबीआई में जॉब लगा देगा। जिसके लिए उसने चार लाख रूपए भी ले लिए। जालसाजी बंटी बबली का शिकार तीसरा व्यक्ति आबिद खान (Abid Khan) बना। उसकी बिट्टल मार्केट में बाइक रिपेयरिंग की दुकान है। उससे छोटू लोधी ने कहां की वह दो—तीन दिन में रकम वापस कर देगा। यह बोलकर उससे 23 हजार रुपए ले लिए। उसमें से सिर्फ चार हजार रुपए वह लौटा सका। जालसाज का दंपति ने अगला शिकार अरविंद लोधी (Arvind Lodhi) को बनाया। उससे रिश्ता जोड़ते हुए आरोपी ने उसे पहले साला बनाया। फिर उसको रकम ऐंठकर वह मामा बनाकर फरार हो गए। उससे भी आरबीआई स्कीम के तहत चालीस प्रतिशत अधिक रकम दिलाने का झांसा देकर पांच लाख सत्ताइस हजार रूपए ऐंठ लिए।

एक व्यक्ति को छोड़कर हर पीड़ित के पास एचडीएफसी बैंक का चेक

जालसाज आरोपी काजल लोधी भी एक संग्रहालय में जॉब करती थी। फिलहाल दोनों अपने मकान से गायब हैं। उन्होंने मकान मालिक को किराया भी नहीं दिया है। मामले की जांच एसआई कमल सिंह (SI Kamal Singh) कर रहे हैं। पुलिस ने 324/24 धारा 420/406 (जालसाजी और गबन का प्रकरण) दर्ज कर लिया है। यह प्रकरण 14 जून की दोपहर सवा एक बजे दर्ज किया गया। आरोपी जालसाजी की यह घटना पिछले एक साल से कर रहे थे। आरोपियों ने हर पीड़ित को एचडीएफसी बैंक (HDFCBank) का चेक ​थमाया है। पुलिस को आरोपियों का आधार कार्ड भी मिला है। पुलिस बैंक खाते के जरिए आरोपियों की जानकारी जुटा रही है। इधर, तफ्तीश के दौरान पता चला है कि आरोपी काजल लोधी और छोटू लोधी के बीच घर में विवाद हुआ था। जिसका प्रकरण हबीबगंज थाने भी पहुंचा था। तब पुलिस ने आरोपी पति के खिलाफ धारा 151 के तहत कार्रवाई की थी। छोटू लोधी की उम्र लगभग 22 साल है जबकि उसकी पत्नी की उम्र 19 साल है। पुलिस उस वक्त दर्ज कराई गई जानकारी के आधार पर भी आरोपियों का पता लगा रही है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal Fraud News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Gang Rape News: युवती को अगवा कर गैंगरेप
Don`t copy text!