Bhopal Road Mishap: निर्माणाधीन ब्रिज की वजह से बने गड्ढे में गिरकर दो की मौत

Share

Bhopal Road Mishap:  चौबीस घंटे में हुई सड़क दुर्घटना में चार व्यक्तियों ने दम तोड़ा

Bhopal Road Mishap
सांकेतिक चित्र

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Road Mishap) के लिए बुधवार का दिन अच्छा नहीं रहा। यहां हुए तीन अलग—अलग सड़क हादसों (Bhopal Road Accident) में चार व्यक्तियों की दर्दनाक मौत हो गई। यह हादसे मिसरोद और ईटखेड़ी इलाके में हुए थे। मिसरोद में निर्माणाधीन ब्रिज के नजदीक बने गड्ढे में गिरकर दो युवकों की दर्दनाक मौत हो गई। पुलिस ने सभी मामलों में मर्ग कायम कर शव पीएम के लिए भेज दिया है।

दोस्त के मिलकर लौट रहे थे

मिसरोद थाना पुलिस ने बताया रोहित सिंह सिसोदिया (Rohit Singh Sisodiya) और संतोष गोस्वामी (Santosh Goswami) दोनों की उम्र 25 साल थी। दोनों दोस्त थे और होशंगाबाद (Hoshangabad) के रहने वाले थे। बुधवार को दोनों बाइक से भोपाल आए थे। दोस्त से मिलने के बाद दोनों रात 11—11:30 बजे लौट रहे थे। तभी ज्ञान गंगा स्कूल (Gyan Ganga School) के पास ग्यारह मील के नजदीक नया ब्रिज चढ़ते ही रोड़ पर गड्ढ़ा दिखाई नहीं दिया और बाइक फिसल गई। बाइक गिरने से रोहित सिंह की मौके पर ही मौत हो गई थी। आसपास के लोगों ने 108 की मदद से दोनों को जेपी अस्पताल पहुंचाया। जहां दूसरे दोस्त संतोष गोस्वामी ने भी दो घंटे बाद दम तोड़ दिया। शव पीएम के बाद परिजनों को सौंप दिए है।

पति—पत्नी थे साथ में

Bhopal Road Mishap
सांकेतिक चित्र

ईटखेड़ी थाना प्रभारी करण सिंह (SI Karan Singh) ने बताया निर्मला माली पति महेश माली उम्र 31 साल थी। निर्मला (Nirmala Mali) इस्लाम नगर इलाके की रहने वाली थी। इस्लाम नगर पुलिस चौकी के पास उनकी किराना दुकान है। बुधवार को निर्मला स्कूटी से पति और 13 साल का बेटा गौरव (Gaurav Mali) के साथ बैठकर भोपाल से घर लौट रही थी। जैसे ही वह लीलावती अस्पताल (Bhopal Leelavati Hospital) के पास पहुंची तो साथ में ट्रक भी चल रहा था। ट्रक के नीचे स्कूटी आ गई। जिसमें निर्मला के शरीर से ट्रक चढ़ (Bhopal Road Mishap) गया। पति और बेटा सड़क के दूसरे कोने पर गिर गए थे। महिला की मौके पर ही मौत हो गई थी।

यह भी पढ़ें:   मोदी के अफसरों के सामने दीवार बनी कमलनाथ की पुलिस, देखें वीडियो

यह भी पढ़ें: पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ के इस बयान पर मचा था बवाल, जिसका असर परिणाम में देखने को मिलेगा जानिए क्यों

वर्मा ट्रेवल्स की बस

हादसे के बाद पति महेश और बेटा गौरव दोनों को चोटें आई है। जिसका इलाज लीलावती अस्पताल मेें चल रहा है। हादसे के बाद ट्रक चालक को सुखी सेवनिया इलाके तरफ भाग गया। थाना प्रभारी करण सिंह ने बताया दूसरे हादसे की सूचना संजीवनी अस्पताल से मिली थी। परिजनों ने बताया गोवर्धन कुशवाह पिता नर्मदा प्रसाद उम्र 20 साल का था। गोवर्धन (Govardhan Kushwaha) शमशाबाद विदिशा का रहने वाला था। बुधवार को करण और उसके परिवार के लोग बाइक से घर लौट रहे थे। करण अकेला बाइक चला रहा था। बाकी दो लोग पीछे आ रहे थे। तभी गोलखेड़ी के आगे बैरसिया रोड़ पर सामने से आती वर्मा ट्रेवल्स की बस ने करण की बाइक को टक्कर (Bhopal Road Mishap) मार दी। इलाज के दौरान डॉक्टरों ने शाम पांच बजे करण को मृत घोषित कर दिया।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!