Bhopal Suicide Case: तीन लोगों ने की आत्महत्या

Share

Bhopal Suicide Case: सुसाइड के किसी भी मामले में पुलिस को नहीं मिला कोई सुराग

Bhopal Suicide Case
सांकेतिक चित्र

भोपाल। पिछले 24 घंटे के दौरान राजधानी भोपाल में तीन व्यक्तियों ने आत्महत्या (Bhopal Suicide Case) कर ली है। तीनों मामलों में पुलिस को कोई ठोस सुराग नहीं मिले हैं। जिससे यह पता लगाया जा सके कि आत्महत्या के पीछे वजह क्या है। यह घटनाएं मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Hanging Case) की है। शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिए गए हैं। परिवार शोकाकुल होने के कारण बयान दर्ज नहीं हो सके हैं।

ड्रायवर का करता था काम

अरेरा हिल्स थाना प्रभारी आरआर सिंह (SI RR Singh) ने बताया राजेश रायकवार पिता नरसिंह उम्र 32 साल ने आत्महत्या कर ली। राजेश (Rajesh Raikwar) पत्नी तीन बच्चों के साथ वल्लभ नगर इलाके में रहता था। वह प्रायवेट गाड़ियां चलाता था। राजेश शराब पीने का आदी था। बुधवार शाम पांच बजे पत्नी—बच्चे घर के बाहर बैठे थे। राजेश घर में अंदर था। अचानक उसकी पत्नी काम से अंदर गई तो देखा राजेश बल्ली से फंदा बनाकर लटका (Jahangirabad Suicide) था। शोर सुनकर आसपास के लोग जमा हो गए थे। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव फंदे से उतारकर पीएम के लिए भेज दिया है।

जेठ ने किया फोन

कोलार थाना पुलिस ने बताया करण कुर्रे पिता स्वर्गीय शिवानदन उम्र 40 साल निवासी दुर्गा नगर अरेरा हिल्स में रहता है। करण का हाल पता ज्योति हाईट्स राज कमल स्कूल के पास थाना क्षेत्र है। करण (Karan Kurey) पुताई का काम करता है। उसने बताया बुधवार दोपहर दो बजे उसके जेठ मनोज अग्रवाल (Manoj Agrawal) ने फोन लगाकर बताया कि तुम्हारे साडू भाई का लड़का जीवन कोशले (Jeevan Koushle) पिता संतू उम्र 35 साल निवासी राज कमल स्कूल के पास घर में किचन की छत में लगे कुन्दे से कपड़ा बांधकर गले में फांसी (Bhopal Suicide Case) लगा ली है।

यह भी पढ़ें:   Betul Couple Suicide Case: पति की इस हरकत से तंग आकर पत्नी कुंए में कूदी

छत्तीसगढ़ का रहने वाला था

Bhopal Suicide Case
सांकेतिक चित्र

जांच अधिकारी एसआई सुशील मिश्रा (SI Sushil Mishra) ने बताया जीवन कोशले मूलत: छिंदवाड़ा (Chhindwara) का रहने वाला था। उसकी पत्नी और तीनों बच्चे छत्तीसगढ़ में रहते हैं। चार—पांच हफ्तों पहले ही वह मौसा के पास रहने आया था। यहां वह मजदूरी करता था। उसने घर की किचन में लूंगी का फंदा बनाकर आत्महत्या (Kolar Suicide Case) की है। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है। इधर, प्रेम नगर महाकाल किराना के पास रहने वाला करण अहिरवार पिता हरिराम उम्र 24 साल ने फांसी लगा ली।

प्लम्बर का करता था काम

जांच अधिकारी एसआई विनोद पंथी (SI Vinod Panthi) ने बताया करण मूलत: जिला विदिशा सिरोंज के पास गांव का रहने वाला था। वह किराए से मकान लेकर थाना क्षेत्र में रहता था। उसकी शादी चार साल पहले हुई थी। शादी के बाद उसकी एक साल भर की बेटी भी है। बुधवार उसके माता—पिता गांव से आए थे। दोपहर में घर के सभी लोग कमरे में थे। तभी किसी काम से पिता हरिराम दूसरी मंजिल पर बने शेड के कमरें में पहुंचे तो करण रस्सी का फंदा बनाकर पाईप से लटका (Bhopal Suicide Case) हुआ दिखा। पुलिस ने कहा कि अभी सुसाइड नोट नहीं मिला है। इसलिए मौत की वजह अभी साफ नहीं है।

यह भी पढ़ें: न जाने कौन सी धुन में पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ कह गए यह शब्द फिर मच गया बवाल

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!