MP Political Gossip: भाजपा—कांग्रेस में चौका सकते हैं कई नाम

Share

MP Political Gossip: चैनल के सर्वे ने बढ़ाई पक्ष—विपक्ष की धड़कने, युवाओं का साथ कांग्रेस को मिला हाथ, पुलिस में फंसे तो पार्टी बदली

MP Political Gossip
सांकेतिक चित्र टीसीआई

भोपाल। एमपी में दो महीने बाद चुनावी बिगुल बजने वाला है। जिसके लिए सारी राजनीतिक पार्टियां कमर कसने को तैयार है। भाजपा—कांग्रेस (MP Political Gossip) अपने संगठन को मजबूत करने में जुटे हैं। वहीं आप, सपा और बसपा अपने जनाधार वाली सीटों पर फोकस कर रहे हैं। बहरहाल पांच महीने बाद यह साफ हो जाएगा कि जनता ने किसे चुनकर कुर्सी सौंपी। उससे पहले जो कवायद चल रही है वह चर्चा का विषय है। ऐसे ही बातों का नियमित कॉलम एमपी पॉलिटिकल गॉसिप है। जिसमें इस बार कुछ चटपटी बातों का जायका आप लीजिए।

वक्त में काम नहीं आए तो दिखाई पीठ

बात राजधानी के एक विधानसभा क्षेत्र की जा रही है। जिसमें सत्तारूढ़ दल के एक नेता का सक्रिय कार्यकर्ता था। वह बड़े मैदानी में बकायदा राजनीतिक क्रिकेट से लेकर, सभा, रैलियां और हर त्यौहार पर साथ देता था। लेकिन, वह एक बार पुलिस केस में फंस गया। जिसके बाद पार्टी ने उसके केस में हथेली नहीं लगाई। वह बकायदा रंगदारी के आरोपों में गिरफ्तार किया गया। जेल से छूटने के बाद आते साथ उसने पार्टी बदली। वह अब विरोधी खेमे में चला गया है। भविष्य में वह अपनी पुरानी पार्टी को चुनौती देने के लिए बहुत सारे चीजें नई पार्टी के लोगों को दे चुका है। यकीन मानिये यह वीडियो और आडियो के रूप में निकट भविष्य में जरूर वायरल होगी।

इस बार युवा करेंगे फैसला

MP Political Gossip
सांकेतिक चित्र टीसीआई

इस बार विधानसभा चुनाव में युवा वोटर बहुत बड़ा फैक्टर बन सकता है। जिसको लुभाने में एमपी के सीएम अब तक कामयाब नहीं हो सके। हालांकि उन्होंने महिलाओं के वोट बैंक को लाड़ली बहना योजना (MP Political Gossip) के जरिए उसका ध्रुवीकरण करने में कामयाब रहे। लेकिन, पूर्व सीएम कमलनाथ की नारी सम्मान योजना भी चर्चा के केंद्र में हैं। इसे देखते हुए साफ है कि हर दल वोटरों को अब तक सिर्फ लालच का फंदा डालकर ईव्हीएम तक घसीटकर लाने में जुटा है। इन सबके बीच युवा कांग्रेस के पास पहुंच गया है। ऐसा कांग्रेस का दावा है। यूथ विंग के नेताओं का कहना है कि सोशल मीडिया में बीजेपी से ज्यादा फॉलोवर अभी हो गए हैं। अब देखना यह है कि यह कब तक बरकरार रहेंगे। क्योंकि जिस दिन युवाओं के बीच पहुंचकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने सिर्फ मित्रों बोला तो कई कवायदें धरी रह जाएगी।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: तेज रफ्तार कार की टक्कर से दो युवक जख्मी

चैनल के सर्वे ने चौकाया

एमपी में कुर्सी पाने के लिए भाजपा—कांग्रेस के नेता कोई कसर नहीं छोड़ रहे। इसी बीच एक निजी चैनल का सर्वे आ गया। जिसमें दावा किया गया कि एमपी में ताजा अवस्था में मतदान हुआ तो त्रिशंकु सरकार बनेगी। अब दोनों ही दल इस नए समीकरण पर भी काम करना शुरू कर दिए हैं। यह कवायद कांग्रेस की तरफ ज्यादा चल रही है। क्योंकि उन्हें पिछली बार हुई चोट का अहसास है। इसलिए इस बार वह कोई चूक नहीं करना चाहते। इस सर्वे के बाद दोनों ही दल अपना सर्वे कराने में फिर जुट गए हैं।

नाम सुनकर चौकिएगा नहीं

MP Political Gossip
सांकेतिक चित्र टीसीआई

इस बार विधानसभा उम्मीदवारों के नाम जनता को काफी चौका सकते हैं। यह सरप्राइज भाजपा—कांग्रेस (MP Political Gossip) दोनों ही दल देने वाले हैं। ऐसे में यह बात बनी है कि फायदा जनता को ​ही मिलेगा। क्योंकि उनके सामने दलों के अलावा निर्दलीय के रूप में कई विकल्प मौजूद होंगे। अब नामों का यह पिटारा कैसे खोला जाए उस बात पर मंथन चल रहा है। क्योंकि नाम उजागर होने के बाद निराश चेहरों की तरफ से जो आतिशबाजी होगी उसका सामना करने की हर कोई हिम्मत नहीं जुटा सकता। खबर है कि इस बार कई युवा चेहरों को मौका दिया जाएगा। जानकारी तो यह भी है कि यदि प्रियंका गांधी वाड्रा की चली तो महिलाओं को टिकट का प्रतिशत ज्यादा बढ़ाकर मौजूदा सरकार की घोषणाओं को काउंटर किया जाए।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

MP Political Gossip
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Most Wanted: मकान मुख्तार का बताया पर दूसरे व्यक्ति ने कब्जा दिखाया
Don`t copy text!