Bhopal Fraud News: डॉक्टर दवा देकर दर्द दूर कर रहे थे उधर उनके कर्मचारी भभूत देकर पत्नी को लूटते थे

Share

Bhopal Fraud News: प्रांजल अस्पताल के मालिक की पत्नी से छह महीनों के भीतर में ऐंठ लिए चालीस तौला सोने के जेवरात और लाखों रुपयों की नकदी, वारदात करने वाले दो सगे भाई पति के अस्पताल की मेडिकल स्टोर में करते थे काम, जेवरात वापस मांगे तो पैकेट में पैक करके रद्दी कागज थमा गए

Bhopal Fraud News
ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। ऐसी कहावत है कि किसी भी मरीज के लिए डॉक्टर भगवान का रूप होते हैं। लेकिन, इसके उल्ट एक डॉक्टर की पत्नी ने दो युवकों को भगवान मान लिया। यह दोनों युवक उसके पति के अस्पताल में खुली मेडिकल शॉप में कभी नौकरी करते थे। यह वारदात भोपाल (Bhopal Fraud News) शहर के अशोका गार्डन थाना क्षेत्र की है। आरोपी सगे भाई डॉक्टर की पत्नी को भय दिखाते थे कि उनके घर में साया है। जिस कारण बेटे से लेकर पूरे परिजनों को खतरा है। जिसे दूर करने के नाम पर जालसाज भाईयों ने छह महीने के भीतर करीब 40 तौला सोने के जेवरात लेकर हड़प लिए। इसके अलावा नकदी भी आरोपी ले गए। पुलिस ने शिकायत पर जालसाजी का प्रकरण दर्ज कर लिया है।

पति को पता चला तो यह बोलकर पैकेट में जेवर लेकर पहुंचे

अशोका गार्डन (Ashoka Garden) थाना पुलिस के अनुसार इस घटना की शुरुआत छह महीने से पहले हुई थी। जिसकी शिकायत थाने में मीरा पिप्पल (Meera Pippal) पति डॉक्टर हरिराम पिप्पल ने थाने में दर्ज कराई है। वह ओल्ड अशोका गार्डन में रहती है। डॉक्टर हरिराम पिप्पल (Hariram Pippal) का प्रांजल अस्पताल (Pranjal Hospital) है। यह अस्पताल बच्चों के इलाज के लिए खोला गया है। अस्पताल का नाम उन्होंने बेटे प्रांजल पिप्पल के नाम पर ही रखा है। उसकी तबीयत खराब रहती थी। जिसके लिए मीरा पिप्पल ने एक बार अब्दुल सोहेल (Abdul Sohel) और फराज से मदद मांगी थी। दोनों ऐशबाग स्थित सोनिया गांधी कॉलोनी (Soniya Gandhi Colony) में रहते थे। दोनों इस मामले में आरोपी है। वे पहले प्रांजल अस्पताल के मेडिकल स्टोर में काम भी करते थे। इस कारण उनका घर में आना—जाना भी था। पीड़िता ने कहा कि बेटे की बीमारी को ठीक करने में यदि वह कोई मुस्लिम झाड़—फूंक वाले को जानते हो तो बताना। झांसे में लेने के लिए उन्होंने सहमति दे दी। इसके बाद घर में साया बताकर आरोपी सगे भाई पैसा और जेवरात मीरा पिप्पल से लेते रहे। इसके बाद आरोपी पीड़िता की बहू के पहने हुए कंगन को जबरन मांगने लगे। उनका कहना था कि यह नहीं दिए तो उसकी बहू को बाधा आएगी और वह संकट में आएगी। यह बात उसने अपने पति को बताई। जिसके बाद पति ने फटकारते हुए सारे जेवरात वापस लौटाने के लिए आरोपी से बोले। आरोपी ने ऐसा करने की बजाय एक पैकेट में पैक करके रद्दी कागज के टुकड़े थमा दिए। इसके बाद यह मामला पुलिस थाने पहुंचा। इस मामले की जांच एसआई विजय भावरे (SI Vijay Bhavre) कर रहे है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ 248/24 धारा 420/120बी/506 (जालसाजी, साजिश और धमकाने का प्रकरण) दर्ज कर लिया है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: बटालियन में तैनात कर्मचारी की मौत
Don`t copy text!