World News: यदि आप अफसर है या घर मालिक तो एक बार महीने में छत का दौरा अवश्य करें…

Share

World News: मुर्दाघर की छत पर मिले सैंकड़ों नरकंकाल, अफसरों ने बचाव के लिए यह बोलकर पुलिस पर फोड़ दिया ठीकरा

World News
File Image

इस्लामाबाद। छत पर अफसर अक्सर दौरा नहीं करते। वे सोचते हैं कि वहां क्या होगा। जबकि कई सरकारी दफ्तरों की छत पर राज भी निकल आता है। आप अभी हमारी बात का यकीन नहीं करेंगे। दूसरा यह कि भारत और पाकिस्तान में कितना फर्क यह आपको इस पूरी जानकारी से भी महसूस हो जाएगा। भारत में अमूमन मुर्दाघर में शव को कुतरने की खबरें आ चुकी है। दूसरी खबरें शव बदलने की भी आई है। लेकिन, पाकिस्तान (World News) से यह जो खबर मिल रही है उससे आपके रौंगटे खड़े हो जाएंगे। दरअसल, मुर्दाघर की छत पर करीब दो सौ नरकंकाल मिले हैं। इस लापरवाही पर मुर्दाघर के अफसर पुलिस तो पुलिस उन्हें जिम्मेदार बता रही है। इन सबके बीच पाकिस्तानी मीडिया में यह विषय जमकर सुर्खियों में छाया हुआ है।

यह बाध्यता बताकर अस्पताल ने जिम्मेदारी उड़ेल दी

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार यह घटना मुल्तान शहर की है। यहां एक अस्पताल की छत पर करीब 200 लाशें मिली हैं। अस्पताल का नाम निश्तार अस्पताल (Nishtar Hospital) है। जिसके मुर्दाघर की छत से मानव शरीर के सैकड़ों अंग मिले हैं। सरकार ने इस मामले में जांच के आदेश दिए हैं। निश्तार अस्पताल के एक शीर्ष अधिकारी ने अस्पताल की छत पर लाशों के सड़ने के लिए पुलिस और रेस्क्यु अधिकारियों को दोषी ठहराया है। लाशों के कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल भी हो रहे हैं। इस संबंध में जियो न्यूज ने बताया कि पंजाब और निश्तार मेडिकल यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर ने अलग-अलग समितियों का गठन किया है। वहीं मेडिकल यूनिवर्सिटी के एनाटॉमी विभाग की प्रमुख डॉ मरियम अशरफ  ने कहा मुर्दाघर की छत पर लाशों के जमा होने के लिए रेस्क्यु अधिकारियों और पुलिस को जिम्मेदार है। उन्होंने कहा कि मुर्दाघर लाशों को स्वीकारने से इनकार नहीं कर सकता क्योंकि यह उन्हें रखने के लिए बाध्य है। लाशों को छत पर रखने का एकमात्र कारण यह है कि उनकी आमद बहुत ज्यादा है और पुलिस थानों में उनकी वापसी की संख्या बहुत कम है। हालांकि उन्होंने छत पर 200 लाशों की संख्या को खारिज किया। मरियम ने कहा कि मैं साफ कर दूं कि सिर्फ कुछ ही लाशें ऊपर रखी हैं।
यह भी पढ़ें:   यूरोप के एशियाई द्वार तुर्की से दोस्ती बढ़ा रहा चीन, क्या है भारत के लिए खतरा?
Don`t copy text!