Bhopal News: ससुर के खिलाफ दर्ज एफआईआर की आड़ में दामाद को किया बदनाम 

Share

Bhopal News: स्वर्ण आभूषण कारोबारी की शिकायत पर चाचा-भतीजे पर एफआईआर, सोशल मीडिया के जरिए किया दुष्प्रचार

Bhopal News
कोहेफिजा थाना, जिला भोपाल—फाइल फोटो

भोपाल। जालसाजी के दर्ज एक मामले में आरोपी बनाए गए व्यक्ति के रिश्तेदार को धमकाने और ब्लैकमेल करने का मामला सामने आया है। यह घटना भोपाल (Bhopal News) सिटी के कोहेफिजा थाना क्षेत्र की है। जिसमें आरोपी बनाया गया एक व्यक्ति बैरागढ़ थाने में दर्ज संपत्ति विवाद के एक मामले का फरियादी है। आरोप है कि संपत्ति विवाद के दर्ज प्रकरण के आरोपी के दामाद जो कि आभूषण कारोबारी को निशाना बनाकर शहर के कई व्हाट्स एप ग्रुप में फर्जी खबर चला दी गई। इस मामले में शिकायत डीसीपी जोन-3 रियाज इकबाल को शिकायत दर्ज कराई गई थी। जिसकी जांच के बाद पुलिस ने यह मामला दर्ज किया है।

जालसाजी के मामले में मिली अग्रिम जमानत

कोहेफिजा थाना पुलिस के अनुसार 27 अगस्त की रात लगभग साढ़े नौ बजे 538/22 धारा 504/506/384 (गलत करने के लिए उकसाना, धमकाना और ब्लैकमेलिंग का मामला) दर्ज किया गया है। शिकायत लेक पर्ल काॅलोनी निवासी जितेंद्र मंघानी पिता सुंदरदास मंघानी उम्र 43 साल ने प्रकरण दर्ज कराया। इस मामले में आरोपी रवि कुमार आसवानी और उसके चाचा विजय आसवानी हैं। रवि कुमार आसवानी (Ravi Kumar Aswani) का गल्ले का कारोबार है। रवि कुमार आसवानी ने बैरागढ़ थाने में अप्रैल, 2022 में जालसाजी का प्रकरण दर्ज कराया था। इस प्रकरण में आरोपी रामकुमार जनयानी (Ramkumar Janyani) को बैरागढ़ थाना पुलिस ने आरोपी बनाया था। विवाद खजूरी सड़क स्थित एक जमीन के कथित लेन-देन को लेकर था। इस मामले में रामकुमार जनयानी को भोपाल जिला अदालत से अग्रिम जमानत मिल गई है।

ऐसे सामने आया पूरा सच

Bhopal News
सांकेतिक ग्राफिक डिजाईन टीसीआई।

कोहेफिजा थाने में दर्ज प्रकरण (Bhopal News) में आरोपी रवि कुमार आसवानी भी लेक पर्ल काॅलोनी में रहता है। जिसके नजदीक रामकुमार जनयानी के दामाद जितेंद्र मंघानी (Jitendra Manghani) रहते हैं। यह बात रवि कुमार आसवानी को पता थी। इस कारण बैरागढ़ थाने में दर्ज प्रकरण को लेकर दुष्प्रचार करने की नीयत से जितेंद्र मंघानी का नाम लेकर समाचार बनाकर आरोपी ने बांट दिया। यह समाचार उन्होंने मोहल्ला नुक्कड़ और व्यापारी संघ के कई व्हाट्स एप ग्रुप में साझा कर दिया। इसमें जितेंद्र मंघानी की फेसबुक प्रोफाइल से तस्वीर निकालकर उसे बांटने का काम किया गया। मंघानी शहर में सोने-चांदी आभूषण की दुकान चलाते हैं। जिसके कारण उनके व्यापारिक नुकसान होने पर उन्होंने पुलिस से मदद मांगी थी। पुलिस ने सायबर क्राइम से सबूत जुटाने के बाद अब प्रकरण दर्ज कर लिया है। अब इस मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी की जाना बाकी है।

यह भी पढ़ें:   Smart City Scam: आईएएस अफसर ने बेटे की कंपनी को लाभ पहुंचाया

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!