Bhopal Road Mishap: तेज रफ्तार वाहन ने बुजुर्ग को मारी टक्कर, अस्पताल में मौत

Share

Bhopal Road Mishap: महिला की हुई संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

Bhopal Road Mishap
सांकेतिक तस्वीर

भोपाल। तेज रफ्तार वाहन ने बुजुर्ग को जोरदार टक्कर (Bhopal Road Mishap) मार दी। हादसे के बाद बुजुर्ग को अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान उसने दम (Bhopal Road Accident) तोड़ दिया। इधर, परिजनों के शादी के दबाव के कारण महिला ने जहरीला पदर्थ खा लिया। दो दिन चले इलाज के बाद उसने भी दम तोड़ दिया। दोनों घटनाएं मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल की है। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिए हैं।

रोड़ क्रास करते समय हुआ हादसा

मिसरोद थाना पुलिस ने बताया रामेश्वर पटेल पिता बच्चूलाल उम्र 60 साल निवासी टोला समरधा का रहने वाला था। परिजनों ने बताया रामेश्वर मजदूरी करता था। घटना वाली रात रामेश्वर (Rameshwar Patel) आईबीडी राधापुरम पेट्रोल पंप के सामने किसी काम से आए थे। रात साढ़े नौ बजे पैदल रोड़ क्रास करते समय एक कार चालक ने टक्कर मार दी थी। घटना के बाद कार चालक फरार हो गया था। लोगों ने उसे जेपी अस्पताल में भर्ती कराया था। जहां इलाज के दौरान उसकी ग्यारह बजे मौत हो गई। पुलिस ने मर्ग कायम कर पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है।

दूसरी शादी के लिए डाल रहे थे दबाव

इधर, घटना स्थल और सीसीटीवी फुटेज की जांच के बाद पुलिस को कार चालक का नंबर मिल गया है। जिसकी पुलिस तलाश कर रही है। वहीं पिपलानी थाना पुलिस ने बताया पूजा उइके पिता सीताराम उम्र 22 साल निवासी पटेल नगर की रहने वाली थी। पूजा उइके (Puja Uike) की शादी सात साल पहले हो चुकी थी। शादी के एक महीने बाद ही पूजा ससुराल से वापस आ गई थी। पूजा आनंद नगर में सिलाई की दुकान पर काम करती थी।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Cheating: ठगी में सस्पेंड कांस्टेबल ने बनाया Job Fraud Racket

सिलाई का काम करती थी

Bhopal Suicide Case
सांकेतिक फोटो

इसके बाद वह कभी ससुराल नहीं गई। इधर, मां और चाचा उसे दूसरी शादी करने का दबाव डाल रहे थे। इसलिए उसने चार अक्टूबर को चूहा मारने की दवा खा ली थी। पुलिस को मृत्यू पूर्व दिए बयान में बताया कि उसको शादी का दबाव बनाया जा रहा था। इसी कारण उसने यह कदम (Puja Uike Suicide Case) उठाया था। मंगलवार सुबह साढ़े दस बजे डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!