इंदौर में लापरवाही की हद, चूहों ने कुतर दिया कोरोना संक्रमित का शव

Share

अस्पताल प्रबंधन की गंभीर लापरवाही उजागर, देखें वीडियो

Indore Unique Hospital
शव की तस्वीर

इंदौर। (Indore) मध्यप्रदेश की उद्योग राजधानी के साथ-साथ स्वास्थ्य राजधानी कहे जाने वाले इंदौर में हालात बदतर होते जा रहे है। सरकारी अस्पतालों के बाद अब निजी अस्पतालों (Unique Hospital Indore) की भी गंभीर लापरवाहियां सामने आने लगी है। सोमवार को मानवता को शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई। यहां के यूनिक अस्पताल (Unique Hospital Indore) में कोरोना संक्रमित के शव को चूहों ने कुतर दिया। मामले का खुलासा उस वक्त हुआ जब शव को परिजन को सौंपा जा रहा था। मामले में एक वीडियो भी सामने आया है। जिसमें साफ तौर पर देखा जा सकता है कि शव को कुतरा गया है।

रविवार तक ठीक थी तबियत

जानकारी के मुताबिक बुजुर्ग शख्स को कोरोना पॉजीटिव पाए जाने के बाद यूनिक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। रविवार दोपहर तक मरीज की तबियत ठीक थी। लेकिन शाम को उनका निधन हो गया। जिसके बाद कोरोना ऑडिट के लिए शव को अस्पताल में ही रखा गया था। सोमवार को शव परिजन को सौंपा जा रहा था। इसी दौरान गंभीर लापरवाही का खुलासा हुआ। गुस्साएं परिजन ने अस्पताल के बाहर जमकर हंगामा किया। मामले की जानकारी लगते ही कलेक्टर ने जांच के आदेश दे दिए। लेकिन घंटों बाद भी प्रशासन का कोई अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा। पुलिस ही शांति व्यवस्था बनाए रखने की कोशिश करती रही।

कमलनाथ ने सरकार को घेरा

‘मुख्यमंत्री शिवराज जी ,ये आपके सपनो के शहर इंदौर में क्या हो रहा है ? ना जीवित इंसान सुरक्षित है और ना शव ? शव कंकाल बन रहे है , नवजात का शव मुर्दाघर में रख भुला दिया जाता है और अब शव को चूहे द्वारा कुतरे जाने की घटना सामने आयी है। मानवता को शर्मशार करने वाली इन घटनाओं से परिवार की भावनाएँ आहत हो रही है , इंसानियत -मानवता तार-तार हो रही है ? स्वास्थ्य सेवाओं की बदहाली की सामने आ रही इन तस्वीरों पर सरकार कड़ा निर्णय ले , दोषियों पर सख़्त कार्यवाही करे।’

यह भी पढ़ें:   वरिष्ठ पत्रकार केजी सुरेश बनाए गए माखनलाल विश्वविद्यालय के कुलपति

कांग्रेस का तीखा वार

इससे पहले एमवाय हॉस्पिटल का मामला सामने आया था। जहां मर्चुरी में ऱखा एक शव कंकाल में परिवर्तित हो गया था।

यह भी पढ़ेंः मध्यप्रदेश के मंत्री बोले- नेहरू ने देश में उद्योग-धंधे लगाकर गलती की

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!