MP Police News: जौहरी ने संभाली डीजीपी की कुर्सी

Share

प्रभारी डीजीपी राजेन्द्र कुमार ने सौंपा चार्ज, तत्कालीन डीजीपी विजय कुमार सिंह के जाने के बाद से खाली थी कुर्सी

Madhya Pradesh Police News
केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से लौटकर मध्य प्रदेश डीजीपी की कमान संभालते विवेक जौहरी। साथ में हैं प्रभारी डीजीपी रहे राजेन्द्र कुमार और उनके बाजू में एडीजी डीसी सागर।

भोपाल। (Bhopal Hindi News) भारतीय पुलिस सेवा में 1984 बैच के आईपीएस विवेक जौहरी (DGP Vivek Johri) ने गुरुवार को डीजीपी की कुर्सी संभाल ली। उन्होंने यह चार्ज प्रभारी डीजीपी राजेन्द्र कुमार (IPS Rajendra Kumar) से लिया। जौहरी सीमा सुरक्षा बल (Border Security Force) में डीजी थे और केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से लौटे हैं। इससे पहले डीजीपी रहे विजय कुमार सिंह (IPS Vijay Kumar Singh) के बाद से यह कुर्सी खाली थी।
जानकारी के अनुसार तत्कालीन डीजीपी विजय कुमार सिंह को हटाने के आदेश 5 मार्च को जारी हुए थे। उन्हें खेल संचालक (Madhya Pradesh Sport Director) बनाया गया है। यह पद स्पेशल डीजी एसएल थाउसेन (IPS SL Thaosen) के केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर जाने के बाद से खाली था। सिंह के स्थान पर सरकार ने विवेक जौहरी को डीजीपी बनाया था। सरकार ने अपने आदेश में कहा था कि जब तक जौहरी दिल्ली (Delhi) से आकर चार्ज नहीं संभालते हैं तब तक 1985 बैच के आईपीएस और सायबर सेल में स्पेशल डीजी राजेन्द्र कुमार प्रभारी डीजीपी रहेंगे। राजेंद्र कुमार ने 6 मार्च को प्रभारी डीजीपी की कुर्सी संभाली थी। जिसके बाद वे कार्यकाल प्रभारी का संभाल रहे थे। अब प्रदेश को स्थायी डीजीपी विवेक जौहरी के रुप में मिल गया है। जौहरी ने अधिकांश कार्यकाल दिल्ली में बिताया है। वे रॉ में भी तैनात रहे थे।

यह भी पढ़ें: डीजीपी बनने से लेकर हटने की पूरी कहानी, राजनीतिक ग्रह नक्षत्रों के साथ
उल्लेखनीय है कि मध्य प्रदेश में राजनीतिक भूचाल के चलते विजय कुमार सिंह को हटाया गया। राजनीतिक गलियारों में खबर है कि उनसे मुख्यमंत्री कमल नाथ (CM Kamal Nath) नाराज चल रहे थे। उनकी रवानगी को लेकर करीब एक महीने से अटकलें चल रही थी। उन्हें ऋषि कुमार शुक्ला (IPS Rishi Kumar Shukla) को हटाकर जनवरी, 2019 में डीजीपी बनाया गया था। हालांकि शुक्ला बाद में सीबीआई में डायरेक्टर (CBI Director) हो गए। कांग्रेस सरकार के दौरान करीब सवा एक साल के कार्यकाल में जौहरी के रुप में प्रदेश तीसरा डीजीपी देख रहा है। जबकि एक प्रभारी डीजीपी भी इस कार्यकाल में रह चुका है।

यह भी पढ़ें:   Society Scam के आरोपी, Christian Federation के पूर्व PRO आनंद मुंटूगल गिरफ्तार

अपील
www.thecrimeinfo.com विज्ञापन रहित दबाव की पत्रकारिता को आगे बढ़ाते हुए काम कर रहा है। हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। इसलिए हमारे फेसबुक पेज www.thecrimeinfo.com के पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!