‘महाकौशल और विंध्य अब फड़फड़ा सकते हैं, उड़ नहीं सकते’

Share

पूर्व मंत्री अजय विश्नोई की नाराजगी को तन्खा का समर्थन

MP Political News
The Display

भोपाल। रविवार को हुए मंत्रिमंडल विस्तार के बाद एक बार फिर मध्यप्रदेश भाजपा में विरोध के स्वर फूटने लगे है। शिवराज सरकार में सिंधिया समर्थकों को मजबूती मिली है। रविवार को हुए मंत्रिमंडल विस्तार में महज 2 विधायकों तुलसीराम सिलावट और गोविंद सिंह राजपूत को कैबिनेट मंत्री की शपथ दिलाई गई। जिसके बाद भाजपा के वरिष्ठ नेताओं की नाराजगी सामने आ रही है। मुखर रहने वाले पूर्व मंत्री, विधायक अजय विश्नोई ने तंज कसा है। उन्होंने मंत्रिमंडल विस्तार पर क्षेत्रिय संतुलन को ध्यान में न रखे जाने की बात कही है। मंत्री पद के लिए भाजपा में वरिष्ठों की लंबी फेहरिस्त है। बता दें कि शिवराज मंत्रिमंडल में अभी भी 4 सदस्यों को शामिल किया जा सकता है। राजनीतिक जानकारों का कहना है कि केवल सिंधिया को साधे रखने के लिए ही केवल दो विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलाई गई है।

अजय विश्नोई के ट्वीट्स

Ajay Vishnoi
अजय विश्नोई, पूर्व मंत्री

महाकौशल’ अब उड़ नहीं सकता फड़फड़ा सकता है! मध्यप्रदेश में सरकार का पूर्ण विस्तार हो गया है। ग्वालियर, चंबल, भोपाल, मालवा क्षेत्र का हर दूसरा भाजपा विधायक मंत्री है। सागर, शहडोल संभाग का हर तीसरा भाजपा विधायक मंत्री है।

महाकौशल के 13 भाजपा विधायकों में से एक को तथा रीवा संभाग में 18 भाजपा विधायकों में से एक को राज्य मंत्री बनने का सौभाग्य मिला है। महाकौशल और विंध्य अब फड़फड़ा सकते हैं उड़ नहीं सकते। महाकौशल और विंध्य को अब खुश रहना होगा। खुशामद करते रहना होगा। बधाई

विवेक तन्खा का समर्थन

Vivek Tankha
विवेक तन्खा, राज्यसभा सांसद, फाइल फोटो

कांग्रेस से राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा ने अजय विश्नोई की नाराजगी का समर्थन किया है। उन्होंने विश्नोई के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए लिखा कि- अजय भाई यह पीड़ा समस्त महाकौशल और विंध्य भौगोलिक क्षेत्र की है। मंत्रिमंडल का संतुलन प्रजातांत्रिक मजबूरी और आवश्यकता है। सरकार बनाने के चक्कर में भाजपा ने यह आवश्यक लोकतंत्र का पाठ दरकिनार कर दिया।इसका जवाब जनता निकट भविष्य में ज़रूर देगी।

यह भी पढ़ें:   Madhya Pradesh : क्वारंटाइन किए गए युवक ने फांसी लगाकर दी जान

यह भी पढ़ेंः श्मशान घाट में दर्दनाक हादसा, 20 से ज्यादा की मौत

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!