Bhopal Suicide Case: चींटी मार दवा खाकर की खुदकुशी

Share

बड़े बेटे का होता था डायलिसिस, चार दिन से चल रहा था एम्स में इलाज

Bhopal Suicide Case
सांकेतिक चित्र

भोपाल। (Bhopal Crime News In Hindi) सुसाइड के लिए चींटी मार दवा खाने के बाद व्यक्ति को भोपाल एम्स अस्पताल (Bhopal AIIMS Hospital) में भर्ती कराया गया। जहां चले इलाज के दौरान गुरुवार—शुक्रवार दरमियानी रात उसकी मौत (Bhopal Suicide Case) हो गई। पुलिस मामले को खुदकुशी (Bhopal Poison Case) मान रही है। घटना मध्य प्रदेश (MP Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) की है। इस मामले में परिजनों के अभी बयान दर्ज किया जाना बाकी है। इधर, एक सांप पकड़ने वाले व्यक्ति की मौत (Bhopal Snake Bite Case) हो गई। पुलिस ने दोनों मामलों में मर्ग कायम कर शव पीएम के लिए भेज दिया है।

गोविंदपुरा थाना पुलिस ने www.thecrimeinfo.com (द क्राइम इंफो डॉट कॉम) को बताया कि अन्ना नगर निवासी तगराज पिता आर मुरगम 45 साल की गुरुवार—शुक्रवार की दरमियानी रात लगभग दो बजे मौत हो गई। वह मजदूरी का काम करता था। उसने चार—पांच दिन पहले चींटी मारने की दवा का सेवन किया था। उसको एम्स अस्पताल में इलाज चल रहा था। पुलिस को प्राथमिक जांच में पता चला है कि तगराज (Tagraj Suicide Case) के बड़े बेटे के किडनी खराब थी इसलिए उसका डायलिसिस होता था। इस कारण वह लंबे अरसे से परेशान चल रहा था। उसका बड़ा बेटा 22 साल का है। पुलिस को कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। इसलिए आत्महत्या कहने को लेकर पुलिस के सामने तकनीकी पेंच है।

सर्पदंश से मौत

पिपलानी थाना क्षेत्र स्थित 60 झुग्गी क्वार्टर निवासी जी गीडियन जोसफ पिता आर जोसफ उम्र 40 साल की गुरुवार सुबह मौत हो गई। एसआई आरएल विश्वकर्मा (SI RL Vishawakarma) ने बताया कि उसको सांप (Bhopal Snake Bite) ने काटा था। पत्नी उससे अलग रहती है जबकि बेटा बहन—भाई के पास रहता है। वह सांप पकड़ने का काम करता था। बुधवार को वह गोपाल नगर में सांप पकड़ने गया था। जब वह सांप को पकड़ रहा था तब वह नशे की हालत में था। इस दौरान सांप ने उसको दाहिने हाथ के अंगूठे में काट लिया था।

यह भी पढ़ें:   E-TENDER SCAM : एमपी के टेंडर से पहले रेलवे के ठेकों में करता था मनीष खेल
अपील

क्या आप द क्राइम इंफो से जुड़ना चाहते हैं! अब द क्राइम इंफो एप्प की शक्ल में आपके साथ रहेगा। यह संदेश पढ़ने तक एक मैसेज आपके पास आएगा। आप उसको अलाउ करें, फिर आपके और हमारे बीच की दूरियां कम होगी। यह एप्प आपके मोबाइल पर दिखाई देने लगेगा। बस क्लिक कीजिए और अपने आस—पास चल रही खबरों को तुरंत जानिए। www.thecrimeinfo.com विज्ञापन रहित दबाव की पत्रकारिता को आगे बढ़ाते हुए काम कर रहा है।
हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। इसलिए हमारे फेसबुक पेज www.thecrimeinfo.com के पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!