Clash On JP Hospital: मौत के बाद जेपी अस्पताल में विधायक की मौजूदगी में बवाल

Share

Clash On JP Hospital: आक्रोशित डॉक्टर ने इस्तीफा दिया, अस्पताल के कर्मचारी भी हंगामे पर हुए नाराज

Clash On JP Hospital
हंगामे के बाद इस्तीफा देने वाले डॉक्टर योगेंद्र श्रीवास्तव

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के जेपी अस्पताल में एक व्यक्ति की मौत के बाद भारी हंगामा (Clash On JP Hospital) हो गया। इस हंगामे के वक्त क्षेत्रीय विधायक पीसी शर्मा अपने कार्यकर्ताओं के साथ मौजूद थे। विधायक ने जेपी अस्पताल के डॉक्टर से अभद्रता की। ऐसा आरोप लगाकर डॉक्टर ने अपना इस्तीफा सौंप दिया। यह खबर फैलते ही जेपी अस्पताल के दूसरे स्टाफ भी नाराज हो गए। घटना को लेकर बढ़ते ​तनाव को देखते हुए पुलिस भी वहां पहुंची। हालांकि किसी तरह की एफआईआर दर्ज नहीं हुई है।

प्रायवेट अस्पताल भेज रहे थे

इन आरोपों पर विधायक पीसी शर्मा ने कहा कि कोलार झुग्गी में रहने वाले तखत सिंह को प्रायवेट अस्पताल शिफ्ट किया जा रहा था। जिसका मैं वहां विरोध करने पहुंचा था। तख्त सिंह मेरे विधानसभा क्षेत्र का नागरिक है। परिवार ने यह बात बताई तो उसके परिवार को राहत पहुंचाने के लिए वहां गया था। हालांकि उसकी जान नहीं बचाई जा सकी। इसका मुझे बहुत अफसोस है। डॉक्टर से विवाद के सवाल पर उन्होंने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। जबकि वीडियो में विधायक के साथ—साथ पूर्व पार्षद गुड्डू चौहान वहां डॉक्टर से तेज आवाज में बातचीत कर रहे थे। इस हंगामे के चलते अस्पताल में काफी देर तक अफरा—तफरी रही।

मुझे नहीं करनी ऐसी नौकरी

Clash On JP Hospital
जय प्रकाश चिकित्सालय, भोपाल- फाइल फोटो

दोपहर साढ़े बारह बजे एक गंभीर हालत में मरीज आया था। उसका ऑक्सीजन सिचुएरेशन 30 फीसदी था। दो घंटे बाद उसकी मौत हो गई। मेरे साथ बहुत बुरा व्यवहार किया गया। डॉक्टर योगेन्द्र श्रीवास्तव ने बताया कि मेरी कोई गलती नहीं थी। जिस हालत में मरीज की हालत थी उसको देखते हुए जो मदद कर सकता था वह मैंने किया। उन्होंने कहा कि मेरे साथ बहुत बुरा व्यवहार किया। डॉक्टर योगेंद्र श्रीवास्तव ने कहा कि कोरोना के बिगड़े हालत में हर दिन कोई मरीज मरेगा। आज मेरे साथ अभद्रता की गई कल हमला भी हो सकता है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime: बिल्डर का दंपत्ति ने फावड़ा मारकर सिर फोड़ा

यह भी पढ़ें: भोपाल कलेक्टर ने कोरोना का संक्रमण बताकर कोलार में लॉक डाउन लगा दिया लेकिन यहां के अस्पताल में तो हालात हैरान कर देने वाले हैं

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!