‘लॉक डाउन लगाना सबसे सस्ता और आसान तरीका’: शिवराज सिंह चौहान

Share

स्वास्थ्य आग्रह के आयोजन में क्यों ऐसा बोले सीएम,  मास्क मतलब “मेरा आपका सुरक्षा कवच”

MP Corona Awareness Program
मिंटो हॉल में आयोजित स्वास्थ्य आग्रह कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

भोपाल।  मैं बिना मास्क के नहीं निकलूंगा। परिवार के सभी सदस्यों को संकल्प लेना चाहिए। सामाजिक दूरी बनाकर रखने के लिए भी आग्रह है। कोरोना वैक्सीन लगाने का भी आग्रह (MP Corona Awareness Program) है। यह कहना है मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का। इसके लिए मैं चौबीस घंटें में यहां से सरकार का संचालन करूंगा। कैबिनेट की बैठक से लेकर मेरी टीम यहां से काम करेगी। मास्क जो कि अंग्रेजी का शब्द है। इसके एक—एक शब्द की मुख्यमंत्री ने व्याख्या भी की। उन्होंने कहा ‘एम मतलब मेरा, ए से आशय आपका, एस से तात्पर्य सुरक्षा और के के मायने हैं कवच’।

यह भी पढ़ें: अगर सीएम सही है तो अस्पतालों में अच्छा सलूक होना चाहिए, डॉक्टर तो सच बोलने पर पुलिस बुला लेते हैं

मानवता पर संकट इसलिए सहभागी बने

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मैं लोगों को स्वास्थ्य के प्रति जागरुक करने के लिए स्वास्थ्य आग्रह कार्यक्रम आयोजित किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के नागरिक कोरोना की रोकथाम में सहयोग करने के लिए सरकार की मदद कर सकते हैं। इसमें उनकी सेवाएं वैक्सीनेशन स्वयंसेवक केे रुप में ली जाएगी। चिकित्सा सुविधा की जानकारी और परिवहर की सेवा में सहयोग करेंगे। मास्क लगाने रोकने—टोकने वाली टोली बनेगी। इसके लिए सीएम हेल्पलाइन में नाम और रुचि के अनुसार रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।

लॉक डाउन पर यह बोले

MP Corona Awareness Program
शिवराज सिंह चौहान, मुख्यमंत्री, मध्यप्रदेश शासन

कोरोना को रोकने के लिए व्यवहार चाहिए। अब बाकी काम सरकार करेगी जैसे ट्रेसिंग, टेस्टिंग, ट्रीटमेंट और टीकाकरण उसमें कसर नहीं छोड़ेंगे। बढ़ते संक्रमण के कारण चिंता और दिक्कत भी है। अस्पताल में मरीजों की संख्या बढ़ रही है। बिस्तर व्यवस्था बनाने में सरकार कोई कमी नहीं आने देगी। संक्रमण रोकने के लिए समाज को जागरुक होना होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि कई बार समीक्षा में यह बात सामने आई कि लोग मास्क नहीं लगा रहे। लॉक डाउन अर्थव्यवस्था को तबाह कर देगा। सबसे सस्ता और आसान तरीका है। लेकिन, मैं इसको अच्छा नहीं मानता।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Cheating News: थानेदार के भाई जालसाजी के शिकार

यह भी पढ़ें: भोपाल के पूर्व महापौर जिस दल के हैं वह हिंदू समाज को लेकर आगे रहती है, लेकिन मंदिर को लेकर वे कौन सी राजनीति कर रहे

अप्रैल का महीना आफत वाला

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि संडे लॉक डाउन करके देख लिया। नियमित लॉक डाउन समाधान नहीं है। संक्रमण रोकने का तरीका केवल आत्मानुशासन ही है। हाथ की सफाई, सामाजिक दूरी और मास्क लगाना जरुरी है। इसके लिए जागरुक करना आवश्यक है। जनता से नैतिक आग्रह करने के लिए दबाव बनाने के लिए स्वास्थ्य आग्रह करने आया हूं। इस अभियान की शुरुआत मैंने अपने ही घर से शुरु की। इसलिए जनता से अपील है कि मास्क का इस्तेमाल करें। मीडिया से कहा कि यह राजनीतिक कार्यक्रम नहीं है। यह जागरुकता अभियान है। अप्रैल का महीना प्रदेश के लिए बहुत संकट वाला है। इसलिए जनता को जागरुक करने की अपील करता हूं।

Don`t copy text!