Bhopal ATM Robbery: बिना सेंसर वाले एटीएम डकैतों की पहली पसंद

Share

Bhopal ATM Robbery: दीवाली की आतिशबाजी में काट ले गए थे एटीएम, कई अन्य राज्यों की वारदात भी कबूली

 

Bhopal Robbery Case
डकैतों से बरामद नगदी—हथियार

भोपाल। (Bhopal ATM Robbery Case) भारतीय रिजर्व बैंक की फटकार के बावजूद देश भर मेें बैंकों के एटीएम की सुरक्षा में चूक की जा रही हैं। ऐसा स्पेशल टॉस्क फोर्स, एटीएस समेत कई एजेंसियां भी आगाह करती रही हैं। ताजा मामला लापरवाही का मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल पुलिस ने उजागर (MP ATM Robbery Case) किया हैं। पुलिस ने एक अंतरराज्यीय गिरोह का खुलासा करते हुए एटीएम की कमी का भंड़ाफोड़ किया है। गिरोह केवल उन्ही एटीएम को निशाना बनाता था जिसमें सेंसर नहीं होते थे। यह गिरोह कई अन्य राज्यों में वारदात करना कबूल कर चूके हैं। गिरोह के आधा दर्जन बदमाश गिरफ्तार (Bhopal Cop Caugh  ATM Robbery) हुए हैं।

गैस कटर लेकर निकलते थे वारदात करने

भोपाल आई जी उपेंद्र जैन और डीआईजी सिटी इरशाद वली

दीपावाली की रात ईंटखेड़ी भोपाल में हुई एटीएम कटिंग (Etkhedi ATM Kating Case ) की घटना के बाद भोपाल पुलिस लगातार इस गैंग पर निगरानी रखे हुई थी। गैंग महाराष्ट्र के शोलापुर में वारदात करके दोबारा भोपाल में वारदात करने आ रही थी। गैंग को पकड़ने के लिए टीमें बनाई गई। परवलिया सड़क के पास एसबीआई एटीएम (Bhopal Stolen Case) के सामने एक संदिग्ध वाहन खड़ा मिला। इसके नजदीक तीन व्यक्ति गैस कटर लेकर एटीएम काटने की फिराक में थे। आरोपियों ने गार्ड को बंधक बना रखा था।

ऐसे करते थे वारदात

गिरोह का खुलासा करते हुए भोपाल आईजी उपेन्द्र जैन ने मीडिया को बताया कि गिरोह के सदस्य टीम बनाकर प्रायवेट वाहनों से निकलते हैं। किसी भी दूरदराज के एटीएम का चयन वारदात के लिये करते हैं। जिसमें सेंसर न हो। रैकी करने के उपरांत रात करीबन 2-3 बजे एटीएम में घुसकर गैस कटर से एटीएम काटकर नगदी ले भागते थे। लूटी गई रकम कार के डैश बोर्ड में छुपाकर रख लेते थे। आरोपियों के कब्जे से गैस कटर, एक देशी कट्टा, गैस सिलेंडर, आॅक्सीजन सिलेंडर, दो पाइप, एक सफेद रंग की स्विफ्ट डिजायर कार और नगद 15 लाख रुपए बरामद किए गए हैं।

यह भी पढ़ें:   MP Home Minister के जिले में पुलिस की ऐसी लापरवाही

यह आरोपी हुए गिरफ्तार

Bhopal ATM Robbery
डकैतों से बरामद कार

पुलिस ने जिन आरोपियों को गिरफ्तार किया उनमें शमसेर उर्फ दलसेर पिता फजरू उम्र 40 साल निवासी- ग्राम गंगोरा पोष्ट पहाडी जिला भरतपुर राजस्थान, साहाजत उर्फ शहादत पिता हाजर खान उम्र 25 साल ग्राम निवासी- पिनगवां तह-पुनहाना, जिला नूह हरियाणा, शाकिर पिता फजरू उम्र 40 साल निवासी- ग्राम गंगोरा पोष्ट पहाडी जिला भरतपुर राजस्थान, आस मोहम्मद पिता फजरूद्दीन उम्र 34 साल निवासी ग्राम नगली पठान पोस्ट लंगड़वास तहसील किशनगढ़ वास अलवर राजस्थान, मसीउल्लाह पिता अखतर उम्र 21 साल निवासी- ग्राम राईपुरी तह. नूह जिला नूह हरियाण और मुंशरीफ खाना उर्फ शरीफ पिता कमरुद्दीन खान उम्र 27 साल निवासी- ग्राम सरसवास, तह-पुन्हाना जिला नूह हरिय़ाणा है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!