Bhopal Crime: दुकान बंद हुई तो मैदान पर खोल लिया सैलून

विरोध करने पर दो गुटों के बीच हुई हाथापाई, काउंटर मुकदमा दर्ज

Bhopal Crime
सांकेतिक चित्र

भोपाल। (Bhopal Crime News In Hindi) जैसा कि आपको पता ही है कि देशभर में कोरोना वायरस के चलते लॉक डाउन—3 चल रहा है। यह लॉक डाउन 17 मई तक है। इस दौरान अत्यावश्यक वस्तुओं को छोड़कर (Bhopal Beaten Case) बाकी सारी चीजों पर प्रतिबंध है। इसलिए सैलून की दुकानें नहीं खुल रही है। लेकिन, चोरी—छुपे सैलून की दुकान चलाने वाले कारोबार कर रहे हैं। ताजा मामला मध्य प्रदेश की राजधानी (Madhya Pradesh Fight Case) भोपाल का है। यहां पुलिस ने एक काउंटर मामला दर्ज किया है। जिसमें कारण यही सामने आया है कि एक आरोपी पक्ष मैदान पर अपनी सैलून की दुकान चला रहा था।

मध्य प्रदेश में नाई के कारण कोरोना वायरस फैलने का मामला पहले प्रकाश में आ चुका है। जिसके बाद कई जिलों में सैलून चलाने वाले चोरी—छुपे अपनी दुकान चला रहे है। इसी तरह काव एक मामला भोपाल के कोहेफिजा इलाके में सामने आया था। यहां एक ब्यूटी पार्लर संचालिका महिलाओं के साज—श्रंगार का काम कर रही थी। अब दूसरा ताजा मामला गोविंदपुरा थाना क्षेत्र से सामने आया है। थाना पुलिस ने www.thecrimeinfo.com (द क्राइम इंफो डॉट कॉम) को बताया कि घटना शनिवार सुबह 10 बजे की है।

यहां बरखेड़ा में सब्जी फॉर्म के मैदान पर काफी भीड़ लंबे अरसे से जम रही थी। इसकी वजह जानने के लिए सुनील माली पिता बने सिंह उम्र 40 साल पहुंच गया। वहां पप्पू श्रीवास्तव लोगों के बाल और शैविंग कर रहा था। यह देखकर सुनील माली ने कोरोना वायरस को लेकर ऐसा करने पर आपत्ति जताते हुए उसे वहां से जाने के लिए कहा। इसी बात पर हुई नोंकझोक मारपीट में  तब्दील हो गई। पुलिस ने सुनील माली की शिकायत पर पप्पू श्रीवास्तव, बृजेश, सोनू और मनीष के खिलाफ घर में घुसकर मारपीट करने और धारदार हथियार से लहुलूहान करने का मुकदमा दर्ज कर लिया है। इसी तरह पुलिस ने पप्पू श्रीवास्तव की शिकायत पर सुनील, राजेश और निखिल के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज किया है।

यह भी पढ़ें:   Damoh Minor Rape Case: सरपंच के खिलाफ गांव में रोष, पुलिस बल तैनात

अपील

देश वैश्विक महामारी से गुजर रहा है। हम भी समाज हित में स्पॉट रिपोर्टिंग करने से बच रहे हैं। इसलिए समाज और लोगों से अपील करते हैं कि यदि उनके पास भ्रष्टाचार, कालाबाजारी या जिम्मेदार अफसरों की तरफ से लापरवाही की कोई जानकारी या सूचना हैं तो वह मुहैया कराए। www.thecrimeinfo.com विज्ञापन रहित दबाव की पत्रकारिता को आगे बढ़ाते हुए काम कर रहा है। हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। इसलिए हमारे फेसबुक पेज www.thecrimeinfo.com के पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!